राजधानी और न्यायधानी मे शुरु होगी संगवारी योजना

रायपुर—-नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री अमर अग्रवाल की अध्यक्षता में रायपुर स्थित न्यू सर्किट हाउस में दीनदयाल अन्त्योदय योजना राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन की समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया। अग्रवाल ने बैठक में उपस्थित निकायों के मिशन मैनेजरों से कहा कि हितग्राहियों को प्रशिक्षण और बैंक से लोन के साथ ही रोजगार और व्यापार से जोड़ें।

                             मिशन मैनेजरों ने बैठक में बताया कि कुशल प्रशिक्षण के अभाव में स्वरोजगार करने वाले मासिक तीन से चार हजार रुपए कमा रहे थे। कौशल प्रशिक्षण के बाद उनकी आय प्रति महीन 15 हजार रुपए हो गयी। बैठक के दौरान अधिकारियों ने जानकारी दी कि मिशन की विभिन्न योजनाओं के लागू होने के बाद देश में राज्य की स्थिति अच्छी है। स्वरोजगार कार्यक्रम व्यक्तिगत और समूह ऋण प्रकरण में लाभान्वित हितग्राहियों की संख्या छत्तीसगढ़ का स्थान देश में दूसरा है।

                     शहरी बेघरों को आश्रय योजना में राज्य का देश में 5वां स्थान है। कौशल प्रशिक्षण और प्लेसमेंट में राज्य देश में तीसरे स्थान पर है।  समीक्षा बैठक में केन्द्र सरकार के उत्कृष्ट कार्यों पर भी चर्चा हुई।  बैठक के दौरान निकाय मंत्री ने बताया कि घरेलू कामकाजी महिलाओं के आर्थिक उन्नयन के लिए अभिनव परियोजना संगवारी रायपुर और बिलासपुर के लिए स्वीकृत की गई है।

                    समीक्षा बैठक में मिशन के  क्षमता विकास, कौशल प्रशिक्षण और प्लेसमेंट के माध्यम से रोजगार संगवारी योजना शहरी बेघरों के लिए आश्रय योजना की समीक्षा की गयी । अमर ने बताया कि सामाजिक विकास एवं संस्थागत विकास के तहत साल पिछले सत्र में करीब 4 हजार स्वयं सहायता समूहों का गठन किया गया है। कौशल प्रशिक्षण के बाद करीब सत्ताइस सौ लोगों को रोजगार मिला है। श्री अमर अग्रवाल की उपस्थिति में सूडा और एनर्जी एफिसियेंट सर्विसेस लिमिटेड के मध्य एमओयूए

 

Comments

  1. By satish yadav

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *