हमार छ्त्तीसगढ़

बिलासपुर वि.वि. में इसी सत्र से ऑनलाइन सुविधा

oonline

रायपुर । उच्च शिक्षा और तकनीकी शिक्षा मंत्री प्रेमप्रकाश पाण्डेय ने सोमवार को  यहां मंत्रालय (महानदी भवन) में प्रदेश के विभिन्न विश्वविद्यालयों के कुलपतियों और अग्रणी कॉलेजों के प्राचार्यों की बैठक ली। बैठक में बताया गया कि चालू शिक्षा सत्र से प्रदेश के चार विश्वविद्यालयों में छात्र-छात्राओं को उनके दाखिले से लेकर पास आउट होने तक सभी अकादमिक जानकारी देने के लिए ऑन लाईन सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी । इसके लिए राज्य सरकार की एजेंसी छत्तीसगढ़ इन्फोटेक एवं बायोटेक प्रमोशन सोसायटी (चिप्स ) द्वारा नया साफ्टवेयर तैयार किया गया है । बैठक की अध्यक्षता करते हुए  प्रेमप्रकाश पाण्डेय ने कहा कि ऑनलाईन सुविधाएं  विद्यार्थियों के लिए काफी लाभदायक साबित होंगी।
बैठक में चिप्स के मुख्य कार्यपालन अधिकारी  सौरभ कुमार ने राज्य के विश्वविद्यालयों और कॉलेज के विद्यार्थियों के लिए बनाए गए साफ्टवेयर का प्रस्तुतीकरण दिया । श्री पाण्डेय ने कहा कि इस शिक्षण सत्र से यह ऑन लाईन सुविधा अभी राज्य के चार विश्वविद्यालयों में लागू की जा रही है। इनमें रायपुर स्थित पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय, जगदलपुर स्थित बस्तर विश्वविद्यालय, अम्बिकापुर स्थित सरगुजा विश्वविद्यालय और संभागीय मुख्यालय बिलासपुर स्थित बिलासपुर विश्वविद्यालय शामिल हैं। उच्च शिक्षा मंत्री श्री पाण्डेय ने कहा कि प्रदेश के सभी अग्रणी महाविद्यालयों को वाई-फाई की सुविधा हो यह  सुनिश्चित किया जाए । बैठक में शैक्षणिक सत्र 2015-16 के अकादमिक कैलेण्डर के अनुसार छात्रसंघ चुनाव के संबंध में भी चर्चा की गई एवं आवश्यक दिशा निर्देश दिए।
उच्च शिक्षा विभाग के सचिव डॉ. बी.एल अग्रवाल ने बैठक में अग्रणी कॉलेज के प्राचार्यो को अवगत कराया कि संचालनालय द्वारा सभी पत्र सूचनाएं एवं अन्य जानकारी महाविद्यालय के ई-मेल पर भेजी जा रही है । सभी प्राचार्य प्रतिदिन 10.30 बजे महाविद्यालय में उपस्थित होते समय एवं सायंकाल 5.30 बजे कॉलेज छोड़ते समय ई-मेल अनिवार्य रूप से चेक करें एवं चाही गई जानकारी को उसी ई-मेल पर तत्काल भेंजे । संचालनालय को ई-मेल highereducation.cg@gmail.com पर अधिकांश जानकारी एवं पत्र प्रेशित किये जाते है। उन्होंने कहा कि अग्रणी कॉलेज के प्राचार्य का यह दायित्व है कि ऐसे कॉलेज जहां पर नेट की सुविधा नहीं है उन कॉलेजों को दूरभाष/फैक्स द्वारा संबंधित पत्र की जानकारी प्रदान करें एवं अपने अधीनस्थ कॉलेजों के साथ निरंतर संवाद बनाए रखें ।
इस अवसर पर तकनीकी शिक्षा सचिव श्रीमती रेणू जी पिल्ले, रायपुर संभाग के कमिश्नर और स्वामी विवेकानंद तकनीकी विश्वविद्यालय के कुलपति  अशोक अग्रवाल, पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. एस.के. पाण्डे, दुर्ग विश्वविद्यालय के कुलपति, डॉ. एन.पी. दीक्षित, बस्तर विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. एन.डी. चन्द्रा, सरगुजा विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. बी.एल. शर्मा, सुन्दरलाल शर्मा विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ बी.जी. सिंह, कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. एन.एस. परमार, इंदिरा कलां संगीत विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. माडंवी सिंह, आयुष विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. बी.जी. गुप्ता कामधेनू विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. यू.के. मिश्रा, मेट्स विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. बी. जॉन, आई.एस.एफ.आई विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. एस.पी. गुप्ता, तकनीकी शिक्षा विभाग के आयुक्त सह संचालक हिसांशु गुप्ता भी उपस्थित थे ।

Republic Day:शिक्षा विभाग की झांकी को पहला और जिला जेल एवं नगरीय निकाय दंतेवाड़ा की झांकी को संयुक्त रूप से द्वितीय पुरस्कार
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS