मेरा बिलासपुर

बिल्हा में कांग्रेस कार्यकर्ताओं का बंटवारा

IMG-20150908-WA0022बिलासपुर—बिल्हा में आज कांग्रेस संगठन और मरवाही विधायक अपने अपने मुद्दों के साथ आमने सामने नजर आए। जहां एक तरफ एसडीएम कार्यालय के सामने जिला कांग्रेस ग्रामीण अध्यक्ष राजेन्द्र शुक्ला ने अपने कार्यकर्ताओं के साथ धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान वे अपने कार्यकर्ताओं को एक पल के लिए भी कार्यक्रम स्थल से हटने नहीं दिया। तो वहीं एसडीएम कार्यालय से चंद कदम दूर संगठन की भागीदारी बिना ही अमित जोगी ने विधायक सियाराम कौशिक के साथ कालेज छात्रों की उपस्थिति में आउटसोर्सिंग रथ को हरी झण्डी दिखाया।

             इस दौरान एक स्थान पर कांग्रेस के दो कार्यक्रम को लेकर स्थानीय नेताओं में काफी उहाफोह की स्थिति रही कि किधर जाए और किधर ना जाए। इसकी चर्चा न्यायधानी से राजधानी तक बनी रही । जानकारी के अनुसार कुछ नेताओं ने चक्की के दो पाट के बीच पिसने से अच्छा अपने को बीमार घोषित कर दिया।

           राजेन्द्र शुक्ला ने सीजी वाल को बताया कि अमित जोगी कांग्रेस के विधायक है वे आउटसोर्सिंग मुद्दे पर अभियान चला रहे हैं। लेकिन संगठन का इससे कोई लेना देना नहीं है। सियाराम कौशिक ने अमित जोगी के बचाव में सीजी वाल को बताया कि आउटसोर्सिंग भी कांग्रेस का ही मुद्दा है। हमने कांग्रेस परिपाटी से अलग हटकर कोई काम नहीं किया है। इसलिए इस मुद्दे को बहुत दूर तक ले जाने की जरूरत नहीं है।

             राजेन्द्र शुक्ला ने दावा किया है कि संगठन के कार्यक्रम में 150 से अधिक लोगों ने शिरकत किया। जोगी के कार्यक्रम में छात्र नेताओं ने भाग लिया है। उन्होंने यह भी कहा कि आउटसोर्सिंग के मुद्दे में हमे कुछ नहीं कहना है।

बीईओ को कमिश्नर ने किया सस्पैंड

                 बहरहाल सीजी वाल से दोनो नेताओं ने बताने का प्रयास किया कि टकराहट या फिर विवाद जैसी कोई स्थिति संगठन और अमित जोगी के बीच में नहीं है। सोचने वाली बात है कि एक छोटे से स्थान में कांग्रेस का दो कार्यक्रम जहां भीड़ बड़ी मुश्किल से नसीब होती हो वहां कार्यकर्ताओं का बटवारा यह साबित करता है कि कांग्रेस कुछ तो ठीक नहीं है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS