बैलेट मिलान में गड़बड़ी..अटकी जान.. सत्यम चौक में शराबी ने मचाया हड़कंप..तनाव के बीच चुनाव खत्म

बिलासपुर—- यदि हल्की बातों मतलब गरम गरम बहस को किनारे करें तो बिलासपुर नगर निगम का चुनाव शांति के साथ सम्पन्न हुआ। बैलेट से चुनाव होने के कारण मतदान प्रक्रिया थोड़ी धीमी रही। जिसके चलते पांच बजे के घंटो बाद तक मतदाताओं ने अपने अधिकार का उपयोग किया। इस बीच वार्ड क्रमांक 30 के बूथ क्रमांक 2 में पीठासीन अधिकारी की धड़कन बढ़ गयी। जब मिलान में पचास बैलेट का हिसाब किताब नहीं मिल रहा था। लेकिन जल्द ने अधिकारियो को राहत की सांस मिली। गायब बैलेट की काउन्टर स्लिप एक पालिथीन में नजर आयी।

             बिलासपुर नगर निगम के 70 वार्डों में चुनाव शांतिपूर्ण सम्पन्न हुआ। हां खपरगंज,मल्टीपरपज,लालबहादुर स्कूल के बूथों में प्रत्याशियों के बीच थोड़ी बहुत वाद विवाद की स्थिति जरूर बनी। लेकिन बात बतगंड़ तक नहीं पहुंची। लेकिन खपरगंज के लाला लाजपत राय स्कूल में वाद विवाद की स्थिति कई बार बनी। और हर बार बतंगड़ के पहले ही खत्म हुई। विवाद की स्थिति वहीं बनती नजर आयी…जहां तीन से अधिक वार्डों के बूथ बनाए गए थे। प्रत्याशियों को हर बार लगता कि दूसरे वार्ड का मतदाता दूसरे वार्ड में क्यों पहुंचा। लेकिन समय पर वस्तुस्थिति समझने के बाद मामला अपने आप या किसी की मध्यस्थता के बीच खत्म हुआ।

जब पीठासीन अधिकारी की अटकी जान

              करीब 6 बजे वार्ड क्रमांक 30 में राघवेन्द्र राव सभा भवन के बूथ क्रमांक दो के पीठासीन अधिकारी की जान हलक में अटक गयी। करीब आधे घंटे के बाद पीठासीन अधिकारी की स्थिति सामान्य हुई। बताते चलें कि वार्ड क्रमांक 30 का तीन बूथ राघवेन्द्र राव सभा भवन में बनाया गया था। तीन बूथ में कुल 2177 मतदाताओं को मतदान करना था। बैलेट बाक्स सील करने से पहले तीनों बूथ में कुल 1337 वोट पड़े। 

                                कुछ देर के लिए यहां बूथ क्रमांक 2 के पीठासीन अधिकारी के होश पाख्ता हो गए जब बैलेट मिलान के समय पचास बैलेट की कमी पायी गयी। इस दौरान कांग्रेस प्रत्याशी पुष्पा दुबे अधिकृत एजेन्ट कांग्रेस नेता महेश दुबे भी मौजूद थे। 

                   जानकारी के अनुसार बूथ क्रमांक दो में मतदाताओं की कुल संख्या 1036 पर अधिकारियों के पास 1060 बैलेट थे। लेकिन मिलान के समय 60 बैलेट कम पाए गये। कर्मचारियों ने बताया कि बूथ क्रमांक दो में कुल 734 वोट डाले गए। मिलान के समय बचल बैलेट में 50 बैलेट कम पाया गया। काफी छानबीन के बाद गायब बैलेट को एक पालिथीन में पाया गया।

गायब बैलेट प्लास्टिक की थैली में

                    पीठासीन अधिकारी सुनील सिंह पैकरा ने बताया कि मतदान के दौरान बैलेट का काउन्टर फाइल को सुरक्षित रखा गया था। लेकिन मिलान के समय काउन्टर फाइल कहां रखा गया है जल्दबाजी में किसी का ध्यान नहीं रहा। बाद में छानबीन के दौरान गायब बैलेट को एक पालिथीन में सुरक्षित पाया गया।

शराबी को खदेड़ा गया

               सत्यम चौक स्थित अंबेडकर स्कूल के सामने एक शराबी मतदाता हंगामा मचाते पाया गया। आते जाते लोगों को निशाना बनाकर अनाप शनाप बोल रहा था। इस दौरान पुलिस ने शराबी को समझाने का प्रयास किया। लेकिन जब मतदाता और प्रत्याशियों ने समझाने का प्रयास किया तो वह गाली गलौच करने लगा। इसके पहले स्थिति बगड़ती मौके पर तैनात पुलिस वालों ने खदेड़ा और दूर भगाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *