हमार छ्त्तीसगढ़

भनपुरी के दो कारखानो पर लगा ताला

amankumarsinghरायपुर।पर्यावरण के नियमों का पालन नहीं करने पर  छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मंडल द्वारा राजधानी रायपुर के नजदीक भनपुरी के दो कारखानो को तुरंत बंद करवा दिया गया।इन औद्योगिक इकाईयों में मे. रेफ्राकास्ट मेटलर्जिकल प्रा.लि. यूनिट एक तथा यूनिट दो शामिल है। इनमें रोस्टिंग के दौरान अत्यधिक फ्यूजिटिव उत्सर्जन के कारण बंद कराया गया है।यह कार्रवाई मंडल के क्षेत्रीय कार्यालय रायपुर द्वारा बीरगांव निवासियों की शिकायत को गंभीरता से लेते हुए 25 सितम्बर को मौके पर उल्लंघन की दशा में की गई। दोनों औद्योगिक इकाईयों में वायु प्रदूषण नियंत्रण की सक्षम व्यवस्था होने पर मण्डल की अनुमति से ही उत्पादन कार्य प्रारंभ करने के संबंध में आवश्यक निर्देश दिए गए है।
छत्तीसगढ़ संरक्षण पर्यावरण मंडल के अध्यक्ष अमन कुमार सिंह के निर्देशन में पर्यावरण प्रदूषण की रोकथाम के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे है। उनके निर्देशन में मंडल द्वारा एक ठोस कार्ययोजना भी तैयार की गई है। इसके तहत आगामी दो वर्षो में रायपुर शहर को प्रदूषण मुक्त बनाने का लक्ष्य रखा गया है। साथ ही सभी औद्योगिक इकाईयों पर प्रदूषण नियंत्रण संबंधी नियमों के पालन के लिए कड़ी निगरानी रखी जा रही है।

                                                                इसके तहत विगत छह माह की अवधी में क्षेत्रीय कार्यालय रायपुर द्वारा 30 उद्योगों के विरूद्ध जल तथा वायु अधिनियमों के अंतर्गत नोटिस जारी किए गए हैं। इसके अलावा 23 उद्योगों के विरूद्ध उत्पादन बंद करने की कार्रवाई की गई है। इसी तरह क्षेत्रीय कार्यालय रायपुर द्वारा हाल ही में प्रदूषण के कारण तीन स्पंज आयरण उद्योगों को नोटिस जारी किए गए है।

                                                                     इसके अलावा दो उस्ना राईस मिल उद्योगों के विरूद्ध उत्पादन बंद के निर्देश जारी किए गए है। मंडल द्वारा उद्योगों में प्रदूषण नियंत्रण की वर्तमान प्रणाली को बेहतर बनाने, प्रदूषण में कमी लाने और पर्यावरण संरक्षण के लिए उद्योगों में प्रदूषण नियंत्रण व्यवस्था आदि के बारे में सघन निरीक्षण जारी है। इसमें किसी तरह उल्लंघन पाए जाने पर संबंधित उद्योग के विरूद्ध कठोर कार्रवाई की जा रही है। मंडल ने औद्योगिक प्रदूषण को नियंत्रित रखने के लिए ऑनलाईन मॉनिटरिंग की व्यवस्था भी लागू कर दी गई है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS