मेरा बिलासपुर

भाजपा के खिलाफ कांग्रेस की जंग

4 AUGUST 15बिलासपुर— जिला कांग्रेस ने आज लोकसभा में निलंबित सांसदों के विरोध में कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर जिला कार्यालय का घेराव किया। कलेक्टर कार्यालय के सामने धरना प्रदर्शन कर भाजपा सरकार और जिला प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए सांसदों के निलंबन का प्रस्ताव वापस लेने की मांग की। कुछ देर के लिए कांग्रेसियों ने कलेक्टर प्रतिनिधि को ज्ञापन देने से इंकार करते हुए कलेक्टर से मिलने की मांग की। इस दौरान कांग्रेसियों ने जिन्दाबाद और मुर्दावाद के नारे भी लगाए।

                         जिला कांग्रेस के नेताओं ने आज कांग्रेस कार्यालय से एक रैली निकालकर राष्ट्रपति और राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपते हुए निलंबित कांग्रेस सांसदों के खिलाफ कार्रवाई का विरोध किया। इस मौके पर कांग्रेसियों ने प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। कलेक्टर कार्यालय का गेट बन्द होने के विरोध में कांग्रेसियों ने सड़क पर कुछ देर तक धरना प्रदर्शन किया। बाद में प्रशासन के आदेश पर गेट को खोला गया। कांग्रिसियों ने कलेक्टर प्रतिनिधि एसडीएम एस.पी.वैद्य से बातचीत नहीं करते हुए कलेक्टर से मिलने की मांग की। बाद में समझाइश के बाद कांग्रेसियों ने वैद्य को राष्ट्रपति और राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपते हुए निलंबित सांसदों के खिलाफ लिए गए निर्णय को वापस लेने की मांग की है।

cong4 aug.

                           प्रदेश कांग्रेस महामंत्री अटल श्रीवास्तव ने सीजी वाल से बताया कि निलंबित सांसद देश और अपने क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं। उन्हें इस तरह से निलंबित करना संविधान का अपमान हैं। अटल ने बताया कि 25 सांसदों का निलंबन भारतीय इतिहास का काला दिन है। नरेन्द्र मोदी भ्रष्टाचार के खिलाफ जनमत लेकर केन्द्र में सरकार बनाए हैं। आज वे भ्रष्टाचार के सूत्रधारों को बचाने का प्रयास कर रहे हैं। सुषमा स्वराज, शिवराज सिंह चौहान और रमन सिंह को नरेन्द्र मोदी बचाव कर रहे हैं। जाहिर सी बात है कि प्रधानमंत्री की करनी और कथनी में जमीन आसमान का अंतर है।

अमर अग्रवाल करेंगे कई कार्यक्रमों में शिरकत

                   जिला कांग्रेस ग्रामीण अध्यक्ष राजेन्द्र शुक्ला ने कहा कि कल तक भ्रष्टाचार के खिलाफत करने वाले नरेन्द्र मोदी आज व्यापम घोटाला का मास्टर माइंड शिवराज सिंह चौहान और ललित गेट के सूत्राधार सुषमा स्वराज को बचा रहे हैं। कांग्रेस ने उनके ही समर्थन में इन मंत्रियों का इस्तीफा मांगा था। लेकिन उल्टे ही मोदी के इशारे पर लोकसभा अध्यक्ष ने 25 सांसदों को पांच दिन के लिए निलंबित कर दिया। इससे साफ जाहिर होता है कि भाजपा भ्रष्टाचारियों को बचाना चाहते हैं। साथ ही भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाने वालों को दबाने चाहते हैं।

                     नरेन्द्र बोलर ने बताया कि छत्तीसगढ़ से लेकर दिल्ली तक अब भ्रष्टाचार को बढावा देने वाले भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ कांग्रेस संसद से सड़क तक लड़ेगी। अब कांग्रेस पूछती है कि आखिर प्रधानमंत्री मौन क्यों हैं।

             वरिष्ठ कांग्रेस नेता बसंत शर्मा ने सीजी वाल से बताया कि आज हमने कलेक्टर को राष्ट्रपति के नाम संदेश देना चाहा कि भ्रष्टचार के खिलाफ आवाज उठाने वाले निलंबित कांग्रेसियों के खिलाफ लिए गए फैसले को वापस लिया जाए। लेकिन कलेक्टर महोदय कार्यालय में होते हुए भी कांग्रेस जनप्रतिनिधियों और पदाधिकारियों से मिलना मुनासिब नहीं समझा। अब हमने भी तय कर लिया है कि या तो किसी भृत्य के हाथों ही जनसमस्या की बातें कलेक्टर तक पहुंचाएंगे। क्योंकि हमारा भी मानना है कि कांग्रेस ना केवल सड़क की लड़ाई लड़गी बल्कि समकक्ष और समर्थ लोगों से ही बात करेगी।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS