मेरा बिलासपुर

भाजपा को घेरने तैयार हुई रणनीति

21 pankajबिलासपुर— बुधवार को निगम सामान्य सभा की बैठक 22 तारीख को होना है। भाजपा को घेरने के लिए आज कांग्रेसी पार्षदों ने जिला कांग्रेस कार्यालय मे एक बैठक कर जरूरी रणनीति को अंजाम दिया। इस मौके पर कांग्रेस के सभी 24 पार्षदों के अलावा पूर्व नेता प्रतिपक्ष बसंत शर्मा,पूर्व महापौर राजेश पाण्डेय, कांग्रेस संभागीय प्रवक्ता अभय नारायण राय, जिला शहर कांग्रेस अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर और शहर कांग्रेस प्रवक्ता ऋषि पाण्डेय,राम शरण यादव,पंकज सिंह, निगम कांग्रेस पार्षद दल प्रवक्ता शैलेन्द्र जायसवाल समेत कई वरिष्ठ नेता विशेष रूप से उपस्थित थे।

                       बैठक में कांग्रेसियों ने जरूरी रणनीति तैयार कर सामान्य सभा में भाजपा को पुरजोर तरीके से घेरने की रणनीति पर विचार विमर्श किया। इस मौके पर वरिष्ठ नेताओं ने पहली बार चुनकर आए पार्षदों को विशेष रूप से हिदायत देते हुए कहा कि किसी एक विषय पर सभी पार्षदों को प्रश्न करने या बहस करने की जरूरत नहीं है। वरिष्ठ नेताओं ने सामान्य सभा के एक दिन पहले हुई बैठक में बताया कि भाजपा ने पिछले 15 सालों में बिलासपुर की जनता के साथ सौतेला व्यवहार किया है। अब जनता का ध्यान बंटाने के लिए स्मार्ट सिटी का कार्ड पेंकने का काम किया जा रहा है। जबकि स्मार्ट सिटी के कुछ शर्तें हैं। उन शर्तों को बिलासपुर पूरा नहीं करता है। बावजूद इसके स्थानीय मंत्री और मुख्यमंत्री लगातार लोगों को गुमराह कर स्मार्ट सिटी का सब्ज बाग दिखाया जा रहा है। जाहिर सी बात लोगों का ध्यान भटकाने का भाजपाई प्रयास हो रहा है।

                          बैठक के बाद बसंत शर्मा ने बताया कि बिलासपुर को हम भी स्मार्ट सिटी बनते देखना चाहते हैं। लेकिन बने कैसे यह कोई बताने को तैयार नहीं है। शर्तों को हम कहीं से भी पूरा होते नहीं देख रहे हैं। ना तो हमारे पास जनसंख्या ही,ना ही हमारे पास अर्थ कमाने का साधन ही है। सुविधाएं भी पूरी नहीं है। हाईकोर्ट, केन्द्रीय विश्वविद्यालय,एनटीपीसी,कानन पेन्डारी,एसईसीएल जैसे महत्वपूर्ण संस्थान भी हमारे पास नहीं है। ऐसे में बिलासपुर को स्मार्ट कैसे बनाया जा सकता है।

आईजी के पास पहुंची तखतपुर थानेदार की शिकायत

                   निगम कांग्रेस पार्षद दल के प्रवक्ता शैलेन्द्र जायसवाल ने बताया कि महापौर रोज रायपुर का दौरा कर रहे हैं। मीडिया में बोल रहे हैं कि बिलासपुर को स्मार्ट सिटी बनाया जाएगा। लेकिन कैसे यह बताने को तैयार नहीं है। शैलेन्द्र ने बताया कि मात्र 15 प्रतिशत की उपलब्धि पर स्मार्ट सिटी बिलासपुर नहीं बन सकता है। यदि बनता है तो कांग्रेस इसके लिए भाजपा को पूरा समर्थन करेगी। शहर की बजबजाती नालियां और 8 साल से कब्रगाह बना सिवरेज से बिलासपुर स्मार्ट सिटी नहीं बन सकता है।

                     नेता प्रतिपक्ष नजरूद्दीन ने बताया कि आज की बैठक स्मार्ट सिटी समेत कई मुद्दों को लेकर आयोजित की गयी थी। बैठक में शहर की सम्स्याओं को कैसे निगम में उठाना है। इस पर विचार विमर्श किया गया है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS