हमार छ्त्तीसगढ़

भूख से मौत ? कांग्रेस को एक और मुद्दा मिला

raipur-congress_20141015_92042_15_10_2014 (1)

रायपुर । बिलासपुर जिले के पेण्ड्रा में कथित रूप से एक व्यक्ति की भूख से मौत के मामले में कांग्रेस को प्रदेश सरकार के खिलाफ एक और मुद्दा मिल गया है।कांग्रेस इस मुद्दे पर सरकार को घेरने की तैयारी में है। इस सिलसिले में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल सहित अन्य नेताओँ ने सरकार को आड़े हाथों लेते हुए प्रदेश  की सार्वजनिक वितरण प्रणाली को नाकाम बताया है। साथ ही पेण्ड्रा में हुई मौत की जाँच के लिए एख टीम गठित कर दी है।

              छत्तीसगढ़ में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के माध्यम से आम जनता को भूख से नही मरने का दावा करने वाली राज्य सरकार की पोल लगातार खुलते जा रही है। सरगुजा में बच्चे की मौत के बाद शुक्रवार को  पेण्ड्रा में एक अधेड की मौत का मामला प्रकाश में आया है ।प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल एवं नेता प्रतिपक्ष टी.एस.सिंहदेव और उप नेताप्रतिपक्ष रेणु जोगी ने राज्य सरकार की सार्वजनिक वितरण प्रणाली पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये कहा है कि पिछले 9 माह से राशन कार्डो की जांच और सत्यापन के नाम पर राशन कार्डधारियों को लगातार परेशन किया जाता रहा है, देश के अव्वल राज्यों में छत्तीसगढ़ को एकलौता राज्य बताने वाले डॉ रमन सिंह प्रत्येक परिवार को चुनाव के पूर्व 35 किलो चावल देने का वायदा किया था और भूख से किसी की भी मौत नही होने का दावा किया था। पर यही पीडीएस सिस्टम सरकार के कामकाज पर प्रश्न चिन्ह लगाता हैं। प्रदेष के कई स्थानों पर भूख से अनेक लोगो की मौत हुई है अभी कुछ ही दिनों पहले सरगुजा और पेण्ड्रा में भूख की मौत हुई इसलिये यदि कोई जिम्मेदार है तो वह राज्य के मुखिया रमन सिंह है। दरअसल रमन सिंह का दावा था कि देश का यह पहला राज्य होगा जहां सरकार अपने संसाधनों से प्रदेष की गरीब जनता को भूखे नही सोने देगी और हर स्तर पर जाकर प्रति परिवार,प्रति माह 35 किलो चांवल उपलब्ध करायेगी। एनडीए सरकार के खाद्य सुरक्षा अधिनियम का मखौल उडाते हुये उन्होंने अपने पीडीएस सिस्टम को बेहतर बताया था। पर आज प्रदेश में इस सिस्टम की दयनीय स्थिति है। इसके पीछे नागरिक आपूर्ति निगम में 1.5 लाख करोड रूपये से अधिक का घोटाला, 72 लाख फर्जी राषन कार्ड बनाने का घोटाला तथा भारी पैमाने पर भ्रश्टाचार के चलते एवं यूपीए सरकार की नीतियों के परिणामस्वरूप प्रदेष की जनता को सार्वजनिक वितरण प्रणाली का लाभ पहुंचाने में असफल हो चुकी है।

मां के साथ भूपेश बघेल की पेंटिंग, जन चौपाल के दौरान भावुक हुए मुख्यमंत्री

कांग्रेस की जाँच टीम गठित

पेण्ड्रा में एक अधेड की भूख से मृत्यु हो गयी राज्य सरकार के पीडीएस सिस्टम की खुली पोल प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने जांच दल का गठन किया है जिसमें उप नेताप्रतिपक्ष विधायक श्रीमती रेणु जोगी संयोजक एवं धर्मजीत सिंह विषेश आमंत्रित सदस्य पीसीसी, विवेक बाजपेयी सचिव प्रदेष कांग्रेस, राजेन्द्र शुक्ला अध्यक्ष जिला कांग्रेस कमेटी बिलासपुर, रामदयाल उईके विधायक पाली तानाखार, सियाराम कौशिक विधायक बिल्हा, श्रीमती अरूणा जायसवाल अध्यक्ष नगर पंचायत अध्यक्ष जांच दल से आग्रह किया है कि वे तत्काल घटना स्थल का दौरा कर संबंधित व्यक्तियों ग्रामवासियों तथा चिकित्सको से भेट कर घटना के सभी तथ्यों की वस्तुस्थिति से अवगत होवे एवं अपनी रिपोर्ट एक सप्ताह के भीतर प्रेषित करे।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS