मंत्रि-परिषद के फैसलों पर क्रियान्वयन रिपोर्ट 15 दिन में भेजने के निर्देश,जीएडी से परिपत्र जारी

रायपुर।राज्य सरकार ने सभी संबंधित विभागों को मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की अध्यक्षता में केबिनेट की पिछले सप्ताह आयोजित बैठक में पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी के सम्मान में लिए गए विभिन्न फैसलों पर त्वरित अमल के निर्देश दिए हैं। सामान्य प्रशासन विभाग ने इस सिलसिले में यहां मंत्रालय (महानदी भवन) में संबंधित विभागों के अपर मुख्य सचिवों, प्रमुख सचिवों और सचिवों तथा विशेष सचिवों को परिपत्र जारी किया है। सामान्य प्रशासन विभाग के अधिकारियों ने आज बताया कि मंत्रि-परिषद के निर्णय के अनुसार सभी ग्राम पंचायतों में 28 अगस्त को विशेष ग्राम सभाओं का आयोजन किया जाएगा और वहां शोक प्रस्ताव पढ़कर स्वर्गीय श्री वाजपेयी के सम्मान में दो मिनट का मौन धारण कर श्रद्धांजलि दी जाएगी। विभाग ने अपने परिपत्र में इसके अलावा सभी जिला पंचायतों, जनपद पंचायतों, नगरीय निकायों तथा निगम-मण्डलों में भी 28 अगस्त तक शोक प्रस्ताव पारित किया जाए और इसकी सूचना प्रशासकीय विभाग को भेजी जाए। मंत्रि-परिषद की 21 अगस्त की बैठक में ‘भारत रत्न’ पूर्व प्रधानमंत्री के सम्मान में नामकरण, प्रतिमा स्थापना और सुशासन पुरस्कार, उनकी रचनाओं को पाठ्यक्रम में शामिल किए जाने तथा राष्ट्रीय स्तर पर कवियों के लिए सम्मान प्रारंभ करने के फैसले लिए गए थे। परिपत्र में सभी संबंधित विभागों को निर्धारित समय-सीमा में शोक प्रस्ताव पारित करवाने और अन्य फैसलों का क्रियान्वयन तत्काल सुनिश्चित करने तथा क्रियान्वयन के बाद 15 दिनों के भीतर पालन प्रतिवेदन भेजने के निर्देश भी दिए गए हैं।

मंत्रि-परिषद के फैसलों के अनुरूप नया रायपुर का नामकरण अटलनगर करने और बिलासपुर विश्वविद्यालय तथा राजनांदगांव के मेडिकल कॉलेज का नामकरण अटल जी के नाम पर करने के लिए भी अधिकारियों को आवश्यक कार्रवाई जल्द सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं। परिपत्र के अनुसार राजधानी रायपुर के मेडिकल कॉलेज ऑडिटोरियम, नेरोगेज एक्सप्रेस-वे, सेन्ट्रल पार्क और मड़वा ताप बिजली संयंत्र का नामकरण भी अटलजी के नाम पर किया जाएगा। नया रायपुर में और सभी जिला मुख्यालय में अटलजी की प्रतिमा स्थापित की जाएगी। छत्तीसगढ़ बोर्ड की पाठ्य पुस्तकों में अटलजी की कविताओं के साथ उनकी जीवनी शामिल की जाएगी। 

परिपत्र में कहा गया है कि मंत्रि-परिषद के निर्णय के अनुसार छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर एक नवम्बर को प्रदेश की सर्वश्रेष्ठ पंचायत राज संस्थाओं और नगरीय निकायों को ‘अटल बिहारी वाजपेयी सुशासन पुरस्कार’ से सम्मानित किया जाएगा। इसके लिए प्रत्येक जनपद पंचायत से एक ग्राम पंचायत और प्रत्येक संभाग से एक-एक जनपद पंचायत, नगर पंचायत और नगरपालिका तथा प्रदेश स्तर पर एक-एक जिला पंचायत और नगरनिगम का चयन किया जाएगा। पुलिस बटालियन का नामकरण पोखरण के नाम पर किया जाएगा और 25 दिसम्बर को स्वर्गीय श्री वाजपेयी के जन्म दिवस पर राष्ट्रीय स्तर के एक कवि को ‘वाजपेयी पुरस्कार’ से सम्मानित किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि मंत्रि-परिषद की 21 अगस्त की बैठक के तत्काल बाद उसी दिन सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा अधिकारियों को यह परिपत्र जारी कर दिया गया। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *