मध्यान्ह भोजन में प्लास्टिक चांवल…कांग्रेसियों ने की सीबीआई जांच की मांग

IMG-20170720-WA0013 IMG-20170720-WA0012बिलासपुर—कांग्रेसियों ने कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर मध्यान्ह भोजन के चावल में प्लास्टिक चावल की मिलावट का आरोप है। कांग्रेस नेताओं ने जिला प्रशासन को राज्यपाल के नाम पत्र देकर सीबीआई जांच की मांग की है। कांग्रेसियों ने कहा कि स्कूलों में मध्यान्ह भोजन के लिए चावल की आपूर्ति सरकार करती है। मामला बच्चों के स्वास्थ्य से जुड़ा है। इसलिए मामला गंभीर भी  है।

                                                     कांग्रेस नेता मनी वैष्णव ने बताया कि पिछले दिनों जांजगीर जिले के लोहर्सी गांव में स्कूली बच्चों को खाने में प्लास्टिक परोसा गया। मध्यान्ह भोजन के चावल में प्लास्टिक चावल की मिलावट पायी गयी है। स्कूलों में चावल की सप्लाई सरकार करती है। बावजूद इसके खाने में प्लास्टिक चावल का पाया जाना चिंताजनक है।

                                            मनी वैष्णव के अलावा अन्य कांग्रेसियों ने जिला प्रशासन को बताया कि चावल सप्लाई में भारी भ्रष्टाचार और मिलावट का खेल चल रहा है। बच्चों को प्लास्टिक चावल परोसा जाना सरकार की लापरवाही को जाहिर करता है। चूंकि मामला बच्चों के आहार से जुड़ा है इसलिए मामले में कांग्रेस पार्टी सीबीआई जांच की मांग करती है। कांग्रेसियों ने कहा कि जवाबदेही निश्चित कर दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाए।

                 कांग्रेसियों ने बताया कि मामले में प्रशासन की भूमिका संदिग्ध है। बच्चों के स्वास्थ्य के साथ साजिश रचने वालों को सख्त से सख्त सजा दी जाए। प्रदर्शन के दौरान नीरज सोनी,धनंजय यादव, ईजहार खानद,राज यादव, प्रतीक सिंह,वसीम खान,जीतू सिंह, अंशुल वालिया,राहुल वाधवानी,राहुल श्रीवास समेत कई कांग्रेसी मौजूद थे।

                              राज्यपाल के नाम ज्ञापन देने से पहले कांग्रेसियों ने नेहरू चौक में प्रदर्शन किया। सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। रैली निकालकर कलेक्टर कार्यालय पहुंचे। सड़क पर बैठकर आक्रोश भी जाहिर किया। कांग्रेसियों ने जिला प्रशासन को चावल की बोरी भी भेंट कीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *