मेरा बिलासपुर

मन की नहीं किसानों की बात करे सरकार

amit_jogi360x270रायपुर…अमित जोगी ने रमन के गोठ और मन की बात पर चुटकी ली है। उन्होने कहा कि गोठ और मन की बात से किसानों का पेट नहीं भरता। सरकार को तीन साल होने वाले हैं। किसानों को ना तो बोनस दिया गया और न ही उचित समर्थन मूल्य। इन मांगों को प्रधानमंत्री के सामने उठाना तो दूर, प्रदेश भाजपा के नेता तो उनके स्वागत में करोड़ों फूंकने अभी से लगा दिए हैं।

                      अमित जोगी ने कहा कि पीएम का छत्तीसगढ़ में स्वागत जरुर होना चाहिए लेकिन । लेकिन बताना चाहूंगा कि दिल्ली ने छत्तीसगढ़ के किसानों के लिए अभी तक कुछ नहीं किया है। मरवाही विधायक ने कहा कि मोदीजी को मालूम होना चाहिे कि 2013 में राज्य विधानसभा चुनाव के दौरान घोषणा पत्र में जनता से किए गए वादों को राज्य सरकार ने आज तक पूरा नहीं किया है। किसानों को धान पर 300 रुपए प्रति क्विंटल बोनस और धान का समर्थन मूल्य 2100 रुपये नहीं दिया गया है। जनता पूछ रही है कि “क्या हुआ तेरा वादा, वो कसम वो इरादा”?

                 अमित जोगी ने कहा कि एक तरफ प्रधानमंत्री मन की बात कर रहे हैं और मुख्यमंत्री “गोठिया” रहे हैं । अब दोनों थोडा काम करें तो प्रदेश की जनता का फायदा होगा ।

                       अमित जोगी ने कहा कि राष्ट्रीय दलों की विरोधाभासी बातों से निपटने के लिए ही अजीत जोगी के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ के अपने क्षेत्रीय दल छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस का उदय हुआ है । छत्तीसगढ़ के किसानों को दिया जाने वाला समर्थन मूल्य छत्तीसगढ़ में तय होना चाहिए…ना की दिल्ली में।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS