मेरा बिलासपुर

महमंद सरपंच की पुलिस कप्तान से शिकायत

sp office 1बिलासपुर— ग्राम पंचायत महमंद के लोगो ने सरपंच पर धमकाने और झूठे मामले में फसाने की धमकी का आरोप लगया है। फरियादियों ने आज पुलिस कप्तान से बताया कि कुछ दिनों पहले ग्रामीणों ने लोगों ने सरपंच के खिलाफ श्मशान भूमि को बेचने की शिकायत की थी। जांच के दौरान राजस्व विभाग ने आरोपों को सही पाया है। सरपंच को धारा 40 का आरोपी पाया है। आरोप से बचने सरपंच शिकायतकर्ताओं को वेवजह परेशान कर रही है।

                महमंद के ग्रामीणों ने पुलिस कप्तान को बताया कि कुछ महीने पहले सरपंच नीरज राव पर श्मशान भूमि का अवैध प्लाटिंग कर बेचने की शिकायत हुई थी। जांंच में तात्कालीन नायब तहसीलदार ने शिकायत को सही पाया था। ग्रामीणों के अनुसार सरपंच नीरज राय ने शासकीय जमीन पर रोड बनाये जाने और पवित्र हाॅलीक्रास सिस्टर एसोशियन के निर्माणाधीन स्कूल प्रबंधन से पैसे की भी मांग की थी। जांच रिपोर्ट में सभी आरोपों को सही पाया गया है। रिपोर्ट अनुविभागीय अधिकारी कार्यालय में पेश भी किया जा चुका है।

                       ग्रामीणों के अनुसार जिन लोगों ने सरपंच की शिकायत की थी उन्हे धमकाया और परेशान किया जा रहा है। नागेन्द्र राय, चंद्रप्रकाश सूर्या और भकला तीनों व्यक्तियों को कार्यालय ग्राम पंचायत महमंद के नाम से नोटिस जारी कर पुश्तैनी मकान के निर्माण की अनुज्ञा की कापी मांगी जा रही है।

                                 पुश्तैनी मकान को अवैध बताया जा रहा है। इनमें से किसी का भी निर्माण वर्तमान सरपंच और सचिव के कार्याकाल में नही किया गया है।सरपंच के गलत काम का विरोध करने वालों को महमंद सरपंच परेशान कर रही है। ग्रामीणों के अनुसार आज तक महमंद में ग्रामसभा का आयोजन नहीं किया गया है। पंचायत भवन के बंद कमरे में स्मार्ट कार्ड और गैस कनेक्शन का फार्म भरवाने के नाम से लोगो से हस्ताक्षर लिये गए थे। उन हस्ताक्षरों को ही सरपंच ग्रामसभा का आयोजन होना बता रही है। सरपंच और उसके गुर्गेों ने ग्रामीणों का जीना हराम कर दिया है। उन्हें सरपंच के आतंक से मुक्ति दिलाई जाए।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS