हमार छ्त्तीसगढ़

महामाया से दंतेश्वरी के बीच बनेगा महामार्ग

CM Newsरायपुर। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने मंगलवार को अपने निवास कार्यालय में आयोजित लोक निर्माण विभाग की बैठक में छत्तीसगढ़ से गुजरने वाले तीन हजार किलोमीटर से ज्यादा राष्ट्रीय राजमार्गों के नेटवर्क के उन्नयन और उनके रख-रखाव तथा नवीन प्रस्तावित सड़क परियोजनाओं की समीक्षा की। बैठक में लोक निर्माण मंत्री राजेश मूणत, मुख्य सचिव विवेक ढांड, लोक निर्माण विभाग के प्रमुख सचिव अमिताभ जैन, सचिव अनिल राय, मुख्यमंत्री के सचिव सुबोध कुमार सिंह सहित अन्य संबंधित वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

                                                     डॉ. रमन सिंह ने बैठक में केन्द्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग विकास मंत्री नितिन गडकरी द्वारा छत्तीसगढ़ के लिए घोषित विभिन्न सड़क परियोजनाओं के क्रियान्वयन के संबंध में विभागीय अधिकारियों से जानकारी ली। उल्लेखनीय है कि श्री गडकरी की इन घोषणाओं के अनुसार छत्तीसगढ़ में इस वर्ष के अंत तक लगभग बीस हजार 500 करोड़ की लागत वाली कुल तीन हजार 275 किलोमीटर सड़क नेटवर्क का निर्माण शुरू करने की तैयारी राज्य सरकार के लोक निर्माण विभाग द्वारा राष्ट्रीय राजमार्ग विकास प्राधिकरण के सहयोग से की जा रही है। मुख्यमंत्री के समक्ष इस संबंध में प्रस्तुतिकरण भी दिया गया। डॉ. सिंह ने इन घोषणाओं के तहत रायपुर-बिलासपुर 126 किलोमीटर सड़क उन्नयन और चौड़ीकरण के स्वीकृत कार्य की प्रगति की भी जानकारी ली। अधिकारियों ने उन्हें बताया कि इस कार्य पर 1500 करोड़ रूपए की लागत आएगी। केन्द्र सरकार द्वारा इसके लिए निविदा प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। रायपुर-बिलासपुर मार्ग उन्नयन और चौड़ीकरण का काम राष्ट्रीय राजमार्ग विकास प्राधिकरण को सौंपा गया है। इसके लिए ई.पी.सी. पद्धति के अनुसार प्राधिकरण द्वारा तीन पैकेज बनाकर 18 अगस्त  को निविदा आमंत्रित की गई है। निविदा प्राप्त करने की अंतिम तारीख 13 नवम्बर  निर्धारित है।

mahamayadantewadaमुख्यमंत्री ने कहा कि  नितिन गडकरी द्वारा छत्तीसगढ़ के दो प्रमुख शक्तिपीठों- रतनपुर और दंतेवाड़ा के बीच 525 किलोमीटर सड़क मार्ग को राष्ट्रीय महामार्ग घोषित किया गया है। यह मार्ग रतनपुर से कवर्धा और नारायणपुर होते हुए दंतेवाड़ा को जोड़ेगा। अधिकारियों ने आज की बैठक में बताया कि इस नये राष्ट्रीय राजमार्ग के निर्माण के लिए छत्तीसगढ़ शासन द्वारा केन्द्र को इस वर्ष 15 अप्रैल को प्रस्ताव भेजा जा चुका है, जिसे पांच मई 2015 को सैद्धांतिक स्वीकृति प्राप्त हो गई है। बैठक में रायपुर से दुर्ग के बीच टाटीबंध से नेहरू नगर चौक तक कुल 26 किलोमीटर के फोरलेन में अत्यधिक व्यस्त सड़क यातायात को देखते हुए मुख्यमंत्री ने तीन स्थानों पर फ्लाई ओव्हर निर्माण की सैद्धांतिक सहमति व्यक्त की और अधिकारियों को इस संबंध में कार्य-योजना बनाने के निर्देश दिए, ताकि प्रस्ताव पर आवश्यक कार्रवाई की जा सके। इनमें से एक फ्लाई ओव्हर कुम्हारी में बनाने का प्रस्ताव है।

सप्तमी-बिलासपुर रतनपुर मार्ग पर भारी वाहन प्रतिबंधित…

अधिकारियों ने बैठक में बताया कि रायपुर-धमतरी 80 किलोमीटर सड़क उन्नयन और चौड़ीकरण का कार्य भी राष्ट्रीय राजमार्ग विकास प्राधिकरण को सौंपा गया है। इसकी लागत लगभग एक हजार करोड़ रूपए है। इस मार्ग के रि-स्ट्रक्चरिंग का प्रस्ताव है। निर्माण कार्य के लिए प्रारंभिक तैयारियां प्राधिकरण द्वारा तेजी से की जा रही है। इसके अंतर्गत 240 हेक्टेयर भूमि अधिग्रहण की कार्रवाई नियमानुसार की जा रही है। डॉ. रमन सिंह ने राजनांदगांव शहर के दोनों फ्लाई-ओव्हरों के बीच के गैप को फ्लाई ओव्हरों से जोड़ने के प्रस्ताव पर भी आज की बैठक में अधिकारियों से विचार-विमर्श किया। यह प्रस्ताव लोक सांसद श्री अभिषेक सिंह द्वारा दिया गया था, राज्य सरकार के लोक निर्माण विभाग ने केन्द्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय को भेजा है। यह कार्य भी राष्ट्रीय राजमार्ग विकास प्राधिकरण द्वारा किया जाना है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS