महाविद्यालयों पर छात्रवृत्ति हड़पने का आरोप

IMG20161229121020बिलासपुर–छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस छात्र विंग ने कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर बिलासपुर विश्वविद्यालय से संबद्ध महाविद्यालयों के विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति नहीं दिए जाने की शिकायत की है। छात्रों ने संयुक्त कलेक्टर को बताया कि महाविद्यालय प्रबंधन छात्रवृत्ति दिए जाने के नाम पर छात्र छात्राओं को मानसिक रूप से प्रताड़ित करता है। अभी तक कई छात्रों को साल 2012 की छात्रवृत्ति भी नही दी गयी है।

                                   छत्तीसगढ जनता कांग्रेस छात्र विंग ने संयुक्त कलेक्टर को बताया कि बीयू के सभी महाविद्यालयों में छात्र छात्राओं को कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। साल 2012-13 के अन्य पिछड़ा वर्ग के छात्र-छात्राओं को आज तक छात्रवृत्ति मिली है। ऐसा क्यों किया गया इसकी भी जानकारी नहीं दी जा रही है। आदिम जाति विभाग से मामले में शिकायत की लेकिन अधिकारी ने मामले में अभी तक कुछ नहीं बताया है।

                           जोगी छात्र विंग ने बताया कि आदिम जाति विभाग ने साल 2014-15 में एससी,एसटी,ओबीसी के छात्र छात्राओं के अधिकांश छात्रवृत्ति आवेदनों को निरस्त कर दिया। फार्म निरस्त करने का कारण भी नहीं बताया ।  इसी तरह अनुसूचित जाति के छात्र छात्राओं को 2015-16 का छात्रवृ्त्ति नहीं मिली। आदिम जाति विभाग ने छात्र वृत्ति नहीं दिये जाने के कारणों को बताने से इंंकार कर दिया ।

                 छात्र विंग के अनुसार अनुसूचित जाति,जनजाति और ओबीसी के छात्र छात्राओं से महाविद्यालय प्रबंधन हमेंशा उपेक्षित व्यवहार करता है। विद्यार्थियों के साथ अनुचित भाषा और शब्दों का प्रयोग किया जाता है। छात्रवृत्ति नहींं मिलने से गरीब विद्यार्थी हतोत्साहित हैं। कुछ लोगों ने आर्थिक तंंगी से परेशान होकर पढ़ाई भी छोड़ दिया है। इसलिए जिला प्रशासन से गुहार है कि गरीब छात्र छात्राओं के हित में महाविद्यालय प्रबंधन के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। छात्र विंग ने समस्या खत्म नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *