महिला आयोग पूर्व अध्यक्ष हर्षिता पाजीटिव..पति एम्स में भर्ती..शनिवार को 6 मरीजों की मौत..आपरेशन से बची संक्रमित महिला…बच्चा भी स्वस्थ्य

बिलासपुर— स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार राज्य महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष हर्षिता पाण्डेय कोविड पाजीटिव पायी गयी है। टेस्ट में हर्षिता पाण्डेय के पति उत्कर्ष भी संक्रमित मिले है। जानकारी यह भी है कि शनिवार को अलग अलग अस्पतालों में कोरोना संक्रमण से 5 मरीजों की मौत हुई है। 

              स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार शनिवार को जिले में कुल 171 संक्रमित मरीज पाए गए हैं। एक दो को यदि छोड़ दिया जाए तो कमोबेश सभी मरीज निगम क्षेत्र हैं। जानकारी के अनुसार  शनिवार को एक महिला व्हीआईपी मरीज कोविड पाजीटिव पायी गयी है।

                       स्वाध्य विभग की रिपोर्ट के अनुसार राज्य की पूर्व महिला आयोग अध्यक्ष हर्षिता पाण्डेय की रिपोर्ट पाजीटिव है। इसके अलावा पति की भी रिपोर्ट पाजीटव दर्ज किया गया है। पति को एम्स में भर्ती किया गया है। जबकि महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष को होम आइसोलेट किया गया है।

शनिवार को 6 मरीजो की मौत..

                 जानकारी के अनुसार शनिवार को अलग अलग अस्पतालों में इलाज करा रहे 6 मरीजों की कोरोना संक्रमण से मौत हुई है। आरबी अस्पताल में तीन मरीज ने इलाज के दौरान दम तोड़ा। बताया जा रहा है कि आरबी अस्पताल में मरीज की मौत के बाद परिजनों और प्रबंधन में जमकर कहासुनी हुई। बाद में प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचकर मामले को शांत कराया। इसमें  एक मरीज के शररी को तालापारा कब्रिस्तान में सुपुर्द एक खाक किया गया। 

         प्रशासन से मिली जानकारी केअनुसार कोविड और रेलवे अस्पताल में भी एक एक मरीजों ने दम तोड़ा है। वहीं एक मरीज की केयर एण्ड क्योंर में इलाज के दौरान मौत हुई है। सिम्स में भी एक मरीज ने दम तोड़ा है। लेकिन रिपोर्ट का इंतजार है कि मरने वाला पाजीटिव है या नेगेटिव

दो मां और बच्चों की बच गयी जिन्दगी

  सिम्स प्रबंधन ने शुक्रवार और शनिवारी की दरमियानी रात्रि कोरोना पाजीटिव दो गर्भवती मरीजो का समय पर आपरेशन कर मां और बेटे को सुरक्षित बचा लिया है। सिम्स के चिकित्सकों ने बताया कि नौ महीने से गर्भवती कश्यप कालोनी की एक महिला का आपरेशन किया गया। टेस्ट के दौरान महिला कोरोना पाजीटिव पायी गयी। समय रहते आपरेशन के बाद बच्चे को बचाया गया। जांच के दौरान बच्चा का धड़कन लगातार कम हो रहा था। फिलहाल मां और बच्चो दोनों स्वस्थ्य हैं।

         इसी तरह शुक्रवार और शनिवार की दरमियानी रात्रि में ही एक अन्य कोरन पाजीटिव नौत महीने की गर्भवती महिला का आपरेशन किया गया। महिला की स्थिति काफी गंभीर थी। आपरेशन से पहले जांच में पाया गया कि बच्चादानी फटने केी कगार पर है। चिकित्सक ने समय रहते सफल आपरेशन कर बच्चे को बचा लिया। इस समय मां और बेटे दोनों स्वस्थ्य है। जबकि अन्य आपरेशन में महिला को नहीं बचाया जा सका।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...