महिला रेल यात्री से टीटी ने की मारपीट..फिर आधा दर्जन स्टाफ ने घेरा…रिपोर्ट नहीं लिखवाने का बनाया दबाव

टी

बिलासपुर— बिलासपुर रेलवे स्टेशन पर टीटी ने महिला रेल यात्री से मारपीट की है। मारपीट के बाद आधा दर्जन से अधिक टीटी लामबंद होकर महिला यात्री को घेर लिया। उस पर रिपोर्ट नहीं लिखवाने के लिए दबाव बनाना शुरू कर दिया। इतना ही नहीं पीड़ित युवती के भाई और उसके रिश्तेदार को पांच छः  टीटी ने पकड़ भी लिया। और रिपोर्ट नहीं लिखाने का दबाव बनाते हुए जेल भेजने की धमकी दी। 

                बिलासपुर से चिरमिरी जा रही महिला यात्री के साथ महिला टीटी स्टाफ ने मारपीट की है। घटना करीब आठ बजे की है। पुष्पा साहू चिरमिरी की रहने वाली है। बिलासपुर में परिवार के साथ रहकर नौकरी करती है। बुधवार को देर रात 11 बजे की ट्रेन पकड़ने समय से पहले रेलवे स्टेशन पहुंच गयी। इस बीच पुष्पा साहू के रिश्तेदार टिकट लेने काउंटर की तरफ गए। 

             इसी दौरान एक महिला टीटी पुष्पा साहू के पास पहुंची। महिला टीटी ने टिकट की मांग की। पुष्पा ने बताया कि घर के सदस्य टिकट लेने काउंटर पर गए है। महिला टीटी ने फिर प्लेटफार्म टिकट की मांग की। टिकट नहीं दिखाए जाने पर उसने तीन चार हाथ पुष्पा को रसीद कर दी। इसके बाद स्टेशन में हड़कम्प मच गया। घटना की जानकारी मिलते ही पुष्पा के रिश्तेदार भी मौके पर पहुंच गए।

                             घटना के बाद पुष्पा अपने परिजनों के साथ रिपोर्ट लिखाने आरपीएफ थाना जाने लगी। रिपोर्ट की बात सुनकर महिला टीटी सकते में आ गयी। देखते ही देखते उसने चार पांच टीटी स्टाफ को बुला लिया। लोगों ने पुष्पा और उसके परिजनों को घेर लिया। कुछ टीटी पुष्पा के परिजन को पकड़कर किनारे ले गये। रिपोर्ट नहीं लिखाने की धमकी देने लगे।

           इस बीच पुष्पा के परिजनों ने पत्रकारों से सम्पर्क किया। परिजनों ने बताया कि घटना के बाद हम लोग रिपोर्ट लिखाने के लिए आरपीएफ गए तो..अधिकारी ने रिपोर्ट लिखने से इंकार कर दिया। एक बार फिर चार पांच टीटी मौैके पर पहुंच गए। सभी ने पहले समझाने का प्रयास किया। इसके साथ जेल भेजने की धमकी भी दी।

                इस बीच लोगों के प्रयास से रेलवे के आलाधिकारियों से सम्पर्क हुआ। आरपीएफ ने आलाधिकारियों के दबाव में महिला टीटी के खिलाफ शिकायत दर्ज की है। बहरहाल पुष्पा सदमे में है। उसके परिजनों ने बताया कि हो सकता है कि हम गलत हो…लेकिन किसी लड़की के साथ सरेआम मारपीट उचित नही है। उपर से टीटी लोग जेल भेजने की धमकी भी दे रहे थे। शुक्र है कि आलाधिकारियों के दबाव में रिपोर्ट लिखे जाने की बात सामने आ रही है।

मारपीट करने का किसी को अधिकार नहीं

              जोन के सीपीआरओ ने बताया कि हो सकता है कि युवती के पास टिकट नहीं हो। लेकिन किसी को अधिकार नहीं है कि यात्रियों के साथ मारपीट की जाए। मामले को हम गंभीरता से लेते है। जानकारी सीनियर डीसीएम तक पहुंचाएंगे। आरपीएफ को निर्देश दिया जाएगा कि युवती की शिकायत को दर्ज किया जाए। इसके अलावा हम पीड़ित युवती से भी सम्पर्क करेंगे।

Comments

  1. Reply

  2. Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *