मिट्टी तेल टैंकर चोर गिरोह का पर्दाफाश…पुलिस की बड़ी कार्रवाई…लाखों रूपए जब्त..ओला कैब, 45 खाली ड्रम बरामद.IG और SP ने किया ईनाम का एलान

बिलासपुर— बिलासपुर पुलिस ने मिट्टी तैल टैंकरों के चोर गिरोह का भांडा फोड़ दिया है। पुलिस ने पांच चोर समेत मामले में शामिल एक खरीदार को भी पकड़ा है। आरोपियों के पास से भारी मात्रा में खाली ड्रम,मिट्टी तेल आधा दर्जन से अधिक मोबाइल,नगद के अलावा एक नग ओला कैब कार भी बरामद किया गया है।

                     बिलासपुर पुलिस को मिट्टी तैल से जुड़े संगठित अपराध का भांडा फो़ड़ने में सफलता मिली है। आईजी दीपांशु काबरा और पुलिस कप्तान आरिफ शेख के निर्देश पर संगठित अपराध को फर्दाफाश करने राजपत्रित अधिकारियों की टीम का गठन किया गया। पुलिस कप्तान को लगातार जानकारी मिल रही थी कि शहर से लगे क्षेत्रों में लगातार सार्वजनिक वितरण सिस्टम से मिलने वाले मिट्टी तैल की काला बाजारी हो रही है।

                           वरिष्ठ अधिकारियों के दिशा निर्देश में संगठित अपराध को बेनकाब करने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नीरज चन्द्राकर,एडिश्नल एसपी ग्रामीण अर्चना झा,एसडीओपी कोटा विश्वदीपक त्रिपाठी,डीएसपी नवीन चौबे,डीएसपी नसर सिद्धकी,डीएसपी पीसी राय समेत थानेदारों के नेतृत्व में मिट्टी तेल माफियों के खिलाफ अभियान चलाया गया।

                    राजपत्रित अधिकारियों ने सायबर सेल के सहयोग से छानबीन के बाद पुलिस कप्तान अारिफ शेख को मिट्टी तेल कालाबाजारी की विस्तार से जानकारी दी। अधिकारियों ने पुलिस कप्तान को बताया कि कुल 145 मोबाइल कम्पनियों के कुल 1451037 नम्बरों को खंगाला गया। रिपोर्ट मिलने के बाद पुलिस कप्तान के मार्गदर्शन में गैंग के सदस्यों की धर पकड़ शुरू हुई। पांच आरोपियों के साथ एक खरीददार को हिरासत में लिया गया। पुलिस पूछताछ में पहले तो आरोपियों ने मामले में संलिप्त होने से इंकार किया। दबाव बढ़ने के बाद मिट्टी तेल कालाबाजारी करने वालों ने मामले में शामिल होना स्वीकार किया।

                       आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस ने जगह-जगह से टैंकर के अलावा,मोबाइल,ड्रम,मिट्टी तेल के अलावा कालाबाजारी में उपयोग में आने वाले सभी सामानों को जब्त कर लिया है।

थाना बिल्हा क्षेत्र

              अर्चना झा ने बताया कि बिल्हा थाना क्षेत्र से 30 अप्रैल की रात्रि मिट्टी से भरा टैंकर चोरी हुआ। शिकायत के बाद पुलिस ने टैंकर सीजी-10 ए-1127 को 1200 लीटर के साथ बरामद किया। जब्त मिट्टी तेल की कीमत करीब 2 लाख 88 हजार है। टैंकर लावारिश हालत में मिली।

थाना तखतपुर

                22 मई की रात्रि में गायब टैंकर सीजी 10-ए-5552 के साथ सात हजार लीटर तैल बरामद किया गया। तेल की कीम साढ़े पांच लाख रूपए से अधिक है।

मस्तूरी थाना

                  मस्तूरी थाना क्षेत्र में 24 की रात्रि टैंकर गायब हुआ। टैंकर लावारिश हालत में 12 हजार लीटर तेल के साथ बरामद किया गया। तेल की कीमत पांच लाख रूपए हैं। टैंकर का नम्बर सीजी 10-जेडबी 1606 है।

पुलिस जब्ती

           एडिश्नल एसपी अर्चना झा ने बताया कि आरोपियों के पास से 45 नग खाली ड्रम 2 नग मिट्टी तेल निकालने वाला पम्प,8 मोबाइल,तीन लाख रूपए नगद के अलावा एक ओला कैब जब्त किया गया है।

आरोपियों का नाम और ठिकाना

               टैंकर गायब कर मिट्टी तेल चोरी करने वाले आरोपियों के नाम इस प्रकार है। राहुल सिंह पिता प्रकाश सिंह अयोदध्या नगर बिलासपुर का रहने वाला है। राहुल सिंह 6 महीन तक अन्य मामले में जेल से सजा काट चुका है।दीपक यादव पिता राम यादव तिफरा का रहने वाला है। इस समय ओला कैब का ड्रायवर है। सातो यादव पिता नरसिंग यादव श्रीराम पार्क कालोनी महाराणा प्रताप का निवासी है। पिछले आठ साल से ट्रक ड्रायवर का काम करता है।

           मोनू ऊर्फ सत्येन्द्र पिता सुरेन्द्र वस्त्रकार अमेरी दीपूपारा सकरी का रहने वाला है। परमेश्वर साहू पिता रोहन लाल साहू सकरी में रहता है। पेशे से ओला ड्रायवर है। इसके अलावा पकड़े गए मिट्टी खरीददारों के नाम संजय साव पिता स्वर्गीय विष्णु साव चिंचोली थाना नांदघाट जिला बेमेतरा का निवासी है। संजय नांदघाट में बिहारी नाम से ढाबा चलाता है।

अपराध करने का फार्मूला

                  एडिश्नल एसपी अर्चना झा ने बताया कि आरोपी सातो यादव टैंकर चालकों के साथ खलासी बनकर तैल टैंकर को लेकर तिफरा डिपो से बताए गए स्थान तक जाता था। मौके पर पहुंचकर अपने साथियों मोनू और राहुल को टैंकर खड़े होने के स्थान की जानकारी देता था। चाभी रखने का स्थान भी बताता था। दोनो कैब से बताए गए स्थान पर पहुंचते थे। चाबी निकालकर टैंकर को लेकर नांदगांव स्थित संजय साव के बिहारी ठाबा पहुंच जाते थे। इसके बाद खाली टैंकर को लावारिस हालत में छोड़कर फरार हो जाते थे। मिट्टी तेल से मिले रूपयों को सभी लोग आपस में बांट लेते थे।

आईजी और एसपी ने किया ईनाम का एलान

              आईजी दीपांशु काबरा और एसपी आरिफ शेख ने संगठित अपराध के खिलाफ बड़ी कार्रवाई के लिए जांच पड़ताल में शामिल जवानों के लिए नगद ईनाम का एलान किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *