मीडिया तय करता है जीत हार…कांग्रेस

IMG_20150810_130827 बिलासपुर—पुत्री शाला सामुदायिक भवन में कांग्रेस मीडिया विभाग का एक दिवसीय संभागीय प्रवक्ता कार्यशाला का आयोजन किया गया। मंच से नेता प्रतिपक्ष टी.एस.सिंहदेव, पूर्व केन्द्रीय मंत्री चरणदास महंत, प्रदेश कांग्रेस महामंत्री शैलेश नितिन त्रिवेदी सांसद प्रत्य़ाशी करूणा शुक्ला ने सोशल मीडिया की उपयोगिता पर प्रकाश डाला। इस मौके पर सीजीवाल डॉट काम के प्रधान संपादक रूद्र अवस्थी और इवनिंग टाइम्स के संपादक नथमल शर्मा ने सोशल मीडिया की औचित्य पर अपने विचार रखे।

         मीडिया कार्यशाला के उद्घाटन भाषण में लोगों को संबोधित करते हुए नेता प्रतिपक्ष टी.एस.सिंहदेव ने बताया कि सत्तर के दशक से मीडिया क्षेत्र में क्रांति देखने को मिली। प्रिंट के नए आयाम स्थापित होने के बाद इलेक्ट्रानिक चैनल ने जनमानस में गहरी पैठ बनाया है। जैसे जैसे घर-घर में टीवी पहुंचा मीडिया में खबरों को जनाने और समझने की क्रांति आई।लोगों की भूख समाचार के प्रति बढी है। उन्होंने कहा कि जो परिणाम लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को जो परिणाम मिले वह अप्रत्याशित था। इसका मुख्य कारण मीडिया से हमारी दूरी का होना है। सिंहदेव ने कहा कि कांग्रेस की केन्द्र सरकार ने जितना देश और गरीबों के लिए किया उतना काम कभी नहीं हुआ। बावजूद हम हार गए। विपक्ष ने मीडिया का भरपूर उपयोग किया। आज केन्द्र में भाजपा की सरकार है। सिंहदेव ने कहा कि चाउर वाले बाबा को मुख्यमंत्री बनाने का काम मीडिया ने ही किया है।

IMG_20150810_121638                          सिंहदेव ने कहा कि राहुल गांधी के अभिनव पहल से देश में बहुत सुधारवादी काम किये गए। लेकिन हम अपनी उपलब्धियों को लोगों तक नहीं पहुंचा सके जिसका खामियाजा हमें भुगतना पड़ा है। समय आ गया है कि हम काम करने के साथ ही अपनी गतिविधियों को जन-जन तक पहुंचाए। सिंहदेव ने कहा कि कांग्रेस कार्यकर्ता सोशल मीडिया का बढ़चढ़कर प्रयोग करे। उन्होेंने कहा कि विज्ञापन मीडिया का अभिन्न हिस्सा है। यदि हम विज्ञापन नहीं दे पा रहे हैं तो कम से कम हम पत्रकारों से जीवन्त संबध बना तो सकते ही हैं। उन्होंने कहा कि मैं मानने को तैयार हूं कि कुछ लापरवाही हमारे तरफ से हुई है। हमारी हार का पचास प्रतिशत कारण मीडिया से दूरी के कारणों से हुई है। अंंत में उन्होंने कहा कि 2018 में प्रदेश में कांग्रेस की सरकार मीडिया के सहयोग से ही बनेगा। लेकिन कांग्रेस कार्यकर्ताओं को जीत के लिए मीडिया से सौहार्द पूर्ण संबध बनाना होगा।

         IMG_20150810_124157       कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीजी वाल डाट कांम के संपादक रूद्र अवस्थी ने कहा कि मीडिया का विकास मानव सभ्यता के साथ जुड़ा है। समय के साथ मीडिया के स्वरूप में बदलाव हुआ है। लेकिन काम वहीं है जो पहले था। रूद्र अवस्थी ने कहा कि सोशल मीडिया आज का सबसे सशक्त अभिव्यक्त का माध्यम है। हम यहां बैठे हैं लेकिन हमारी आवाज सोशल मीडिया के जरिए पूरे देश में तैरने लगी है। अवस्थी ने कहा कि सोशल मीडिया के कई स्वरूप हैं जिसमें एक यू ट्यब भी है। बजरंगी भाईजान फिल्म का जिक्र करते हुए रूद्र अवस्थी ने कहा कि दो देशों की दूरियों को प्रेम के धागे में बांधने का काम किया है। ऐसा सिर्फ सोशल मीडिया के कारण संभव हुआ है।  रूद्र अवस्थी ने बताया कि मीडिया को चौथा स्तंभ कहा जाता है। मेरा मानना है कि प्रिंट और इलेक्ट्रानिक मीडिया से कहीं ज्यादा अभिव्यक्ति का सटीक माध्यम सोशल मीडिया है।उन्होंने कहा कि नान घोटाला को देश में जन-जन तक पहुंचाने का काम सोशल मीडिया ने किया है। नेपाल में भूकंप की बात हो या फिर बिहार में चुनावी गतिविधियां की जानकारी हमें पलक झपकते ही व्हाट्स पर मिल जाती है। मेरा मानना है कि अच्छाई के साथ बुराई भी चलती है। हो सकता है सोशल मीडिया में कुछ गलत खबरें आ जाती हैं। लेकिन हम उसकी उपयोगिता को नकार नहीं सकते हैं।

                                 रूद्र अवस्थी ने कहा समय के साथ मीडिया ने भी करवट बदला है। जमाना आन लाइन का है। वेव पोर्टल भी बदलते जमाने का एक हिस्सा है। राजीव गांधी का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि दुनिया एक दिन ग्लोबल गांव होगा। आने वाला समय सूचना तंत्र का होगा। आज वहीं सब कुछ देखने को मिल रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को मीडिया से सतत संपर्क रखना होगा। तभी राजीव गांधी का सपना साकार होगा।

IMG_20150810_130754      कांग्रेस के कार्यशाला को इवनिंग टाइम्स के संपादक नथमल शर्मा ने संबोधित करते हुए कहा कि जमाना एंड्रायड का है। कांग्रेस को भी एंड्रायड के साथ चलना होगा। यदि कांग्रेस की हार हुई है तो उसके पीछे का प्रमुख कारण मीडिया से संवादहीनता है। लोग कहते हैं कि विज्ञापन देने वालों की ही खबर छपती है मेरा मानना है कि नेता विज्ञापन दे या ना दे खबरें उनकी जरूर छपती है। सोशल मीडिया पर प्रकाश डालते हुए नथमल शर्मा ने कहा कि पत्र लिखने वाले आज अच्छे ब़ड़़ पत्रकार हो चुके हैं। सोशल मीडिया पर जो खबरे आती हैं उसमें से ही हम खबर निकालते हैं। उन्होंने कहा आने वाला समय सूचना तंत्र का ही है। राजीव गांधी इसके पुरोधा माने जाते हैं। बावजूद इसके आज वहीं पार्टी सूचना तंत्र से कटता जा रहा है। जिसका फायदा देश की अन्य पार्टियों को मिलता है। आज गांधी,सुभाष, पटेल भाजपा के हो गए हैं। इसमें भाजपा की जीत नहीं बल्कि कांग्रेस हार हुई है। यदि कांग्रेस समय और सूचना तंत्र के साथ नहीं चलेगा उसकी सारी विरासत हाथ खिसक जाएगी। इसलिए जरूरी है कि कांग्रेस सूचना तंत्र से दिल से जुड़ें।

                                कार्यक्रम को वरिष्ठ नेता करूणा शुक्ला ने भी संबोधित किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री बहुत चालाक हैं उन्होंने समय की नब्ज को पकड़ा और सेल्फी सोशल मीडिया का सहारा लेकर केन्द्र में सरकार बनाया। करूणा शुक्ला ने कहा कि नेहरू,इंंदिरा पत्रकारिता के राजदूत थे। हमने खासतौर पर अपनी योजनाओं को जन-जन तक नहीं पहुंचाया। जिसका श्रेय आज भारतीय जनता पार्टी के नेता ले रहे हैं। सोशल मीडिया के सहारे घर-घर तक हमारी उपलब्धियों को अपना बताकर प्रसारित कर रहे हैं।

                                             IMG_20150810_114904 कार्यक्रम शुरू होने से पहले नेता प्रतिपक्ष टी.एस.सिंहदेव वरिष्ठ कांग्रेस नेता करूणा शुक्ला और शैलेश त्रिवेदी,अटल श्रीवास्तव ने माता सरस्वती के चित्र पर पुष्पांजलि देकर दीप प्रज्जवलित किया। राष्ट्रगीत के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उपस्थित अतिथियों का पुष्प गुच्छ से स्वागत किया। अपने स्वागत भाषण में प्रदेश कांग्रेस महामंत्री अटल श्रीवास्तव ने कहा कि मीडिया अभिव्यक्ति का सबसे सशक्त माध्यम है। इस बात की गंभीरता को देखते हुए ही संभागीय कांग्रेस ने कार्यशाला का आयोजन किया है। हम बताना चाहते हैं कि मीडिया किसी के लिए उपयोगी हो सकता है तो किसी के लिए दुरपयोगी साबित हो सकता है। उन्होंने इस मौके पर उपस्थित संभाग के सभी कांग्रेसी कार्यकर्ताओं का स्वागत भी किया।

   IMG_20150810_152030कार्यशाला में विलंब से पहुंचे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने कहा कि लोकतंत्र में सभी को अपने विचार अभिव्यक्ति का अधिकार है। कांग्रेस पार्टी में भी है। लेकिन इसका अर्थ यह नहीं कि छोटी-छोटी बातों पर शिकायत हो और उसे बाद में बाहर निकाल दिया जाए। लोकतंंत्र का मतलब ही यही है कि अपनी बातों को खुलकर रखा जाए। लेकिन इसके लिए हर व्यक्ति या नेता को उचित मंच का चुनाव करना जरूरी है। बिना किसी राग द्वेष के लोग अपनी बातें रखें। लेकिन छोटी छोटी बातों को लेकर मीडिआ के पास पहुंचना ठीक नहीं है। भूपेश ने कहा कि अपनी बातों को खुलकर रखना ही सोशल मीडिया है। आज इसके साथ हमें कदम से कदम मिलाकर चलना होगा। बघेल ने कहा आज किसी से कुछ नहीं छिपा है। लेकिन यदि मिलजुलकर काम करें तो इसका परिणाम भी सार्थक आएगा। आज हम सरकार में नहीं है बावजूद इसके हमें मीडिया में सुना जाता है। इसके पीछे प्रमुख कारण सोशल मीडिया है।

                                                               कार्यशाला के औचित्य पर प्रकाश डालते हुए प्रदेश कांग्रेस मीडिया सेल प्रभारी शैलेश नितीन त्रिवेदी ने कहा कि मीडिया के बिना किसी नेता  की पहचान मुश्किल है। मीडिया बनाता है तो बिगाड़ने में भी देरी नहीं करता। बनाने और बिगाड़ने का काम मीडिया नहीं बल्कि हमारा बयान जिम्मेदार है। आज प्रिंट और इलेक्ट्रानिक मीडिया के साथ सोशल मीडिया का क्रेज बढ़ा है। मीडिया में आने से पहले प्रत्येक कांग्रेसियों की जवाबदारी बनती है कि पहले अध्ययन करें। त्रिवेदी ने कहा कि इस बात का महत्व नहीं है कि क्या बोला जाए महत्व इस बात का है क्या ना बोला जाए। बोला वही जाए जो बहुजन हिताय और बहुजन सुखाय हो। क्योंकि मीडिया वही लिखता है जो बोला जाता है। गलत बयानबाजी से प्रतिकूल परिणाम ही आएंगे। इसलिए प्रवक्ताओं को शब्दों के चयन और विषय के चुनाव पर विशेष सावधानी रखना होगा।

                   IMG_20150810_135105कार्यक्रम का संचालन बिलासपुर संभागीय प्रवक्ता अभय नारायण राय ने किया। कार्यशाला के अंत में अभय नारायम राय ने प्रदेश के दिग्गज कांग्रेसी नेताओं संभाग के कांग्रेस कार्यकर्ताओं और मीडियाकर्मियों का आभार भी व्यक्त किया। कार्यक्रम में बिलासपुर संभाग कांग्रेस प्रवक्ता अभय नारायण राय, बिलासपुर शहर अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर, ग्रामीण अध्यक्ष राजेन्द्र शुक्ला, शहर कांग्रेस प्रवक्ता ऋषि पाण्डेय, आशीष सिंह, अर्जुन तिवारी, महेश दुबे, युवा कांग्रेस नेता पंकज सिंह, विवेक वाजपेयी, रामशरण यादव, वरिष्ठ कांग्रेस नेता शिवा मिश्रा नगर निगम नेता प्रतिपक्ष शेख नजरूद्दीन, कांग्रेस पार्षद दल प्रवक्ता शैलेन्द्र जायसवाल सुभाष ठाकुर, संध्या तिवारी,पिनाल उपबेजा, चन्द्रप्रदीप वायजेपीयी,मस्तूरी कांग्रेस नेता रवि श्रीवास, मुंगेली कांग्रेस कमेटी जिला अध्यक्ष श्याम जायसवाल, जांजगीर कांग्रेस जिला अध्यक्ष मंजू सिंह, कोरबा शहर कांग्रेस अध्यक्ष राज किशोरप्रसाद, ग्रामीण अध्यक्ष हरीश परसाई, रायगढ़ शहर और ग्रामीण अध्यक्ष नागेन्द्र नेगी और दिलीप पाण्डेय के अलावा सभी ब्लाकों के ब्लाक प्रमुख उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.