हमार छ्त्तीसगढ़

मुंगेली में पहली वर्चुअल राज्य स्तरीय लोक अदालत,3 हजार से अधिक मामलों की सुनवाई

मुंगेली(अतुल श्रीवास्तव)-जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, मुंगेली में आज 11 जुलाई 2020 को देश की पहली वर्चुअल राज्य स्तरीय लोक अदालत रखी गई। छ.ग.उच्च न्यायालय बिलासपुर सहित प्रदेश भर के सभी जिला न्यायालयों की 195 से ज्यादा खंडपीठों में लगभग 3500 से ज्यादा मामलों पर एक साथ सुनवाई हुई। उदघाटन कार्यक्रम सुबह 10:30 बजे हाईकोर्ट के सभागार में रखा गया जिसमे प्रदेश भर के सभी न्यायालय वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये जुड़े जिला न्यायालय के न्यायिक अधिकारीगण श्रीमती नीलिमा सिंह बघेल, प्रबोध टोप्पो,श्रीमती सुषमा लकड़ा, अमित मात्रे तथा जिला बार संघ के अध्यक्ष राजमन सिंह व खंडपीठ के सदस्य अधिवक्तागण न्यायालय के वी.सी. रूम में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए जुड़े।CGWALL NEWS के व्हाट्सएप न्यूज़ ग्रुप से जुडने के लिए यहा क्लिक कीजिये

पक्षकार व् अधिवक्ता अपने-अपने स्थान से दिए गए लिंक के माध्यम से जुडे। कोरोना वैश्विक महामारी के चलते देश भर में न्यायिक कामकाज पर विपरीत प्रभाव पड़ा है ऐसे में इच्छुक पक्षकारों से वर्चुअल राजीनामा कराकर उनकी यात्रा पर होने वाले व्यय को बचा कर उन्हें आर्थिक परेशानियों से उबारा गया व न्यायालय के लंबित प्रकरणों की संख्या में कमी हुई।

छत्तीसगढ़ राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के कार्यपालक अध्यक्ष जस्टिस प्रशांत मिश्रा के निर्देशन में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मुंगेली द्वारा कुल 235 राजीनामा योग्य प्रकरणो बाबत 2 जिला न्यायालय एवं 1 बाह्य न्यायालय लोरमी में खंडपीठ गठित की गई । इसमें विशेष रूप से मोटर दावा,चेक बाउंस,विधुत अधिनियम से संबंधित प्रकरण थे जिसमे कुल 24 प्रकरणों का निराकरण हुआ ।न्यायालय के तकनीकी स्टाफ के सहयोग से यह विशेष ई लोक अदालत आसानी से कुशलता पूर्वक संपन्न हुआ जो की देश का प्रथम वर्चुअल लोक अदालत है

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS