मोदी के सम्बोधन मे राहतो का पिटारा,कहा-काले धन के खिलाफ लड़ाई नहीं रुकेगी

pm-modi_650x400_51483194326♦घर कर्ज़,किसानो और कारोबारियों को राहत
♦12 लाख के होम लोन पर 3% छूट
♦किसानो के 60 दिन का ब्याज सरकार देगी
नई दिल्ली।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 31 दिसंबर शनिवार 2016 को नोटबंदी को लेकर राष्ट्र को संबोधित किया।पीएम मोदी ने इससे पहले 8 नवंबर को देश को संबोधित किया था।जब उन्होंने देश से भ्रष्टाचार और काले धन को खत्म करने के लिए 500 और 1,000 रुपये के पुराने नोट बंद किए जाने की घोषणा की थी।आज वह विमुद्रीकरण और काले धन पर बात कर बात की. उन्होंने कहा कि दीवाली के तुरंत बाद हमारा देश ऐतिहासिक शुद्धि यज्ञ का गवाह बना।

                                                          पीएम मोदी ने कहा कि अच्छाई के लिए होने वाले आंदोलनों में जनता और सरकार आमने सामने होते हैं, लेकिन इस आंदोलन में सरकार और जनता दोनों कंधे से कंधा मिलाकर लड़ाई लड़ रहे हैं।

                                                              पीएम ने अपने भाषण में शहरी गरीब लोगों के लिए दो नई हाउसिंग योजनाओं की घोषणा की। इन योजनाओं के तहत पीएम आवास योजना के तहत शहरों में बनने वाले घरों पर नौ लाख के कर्ज पर ब्याज में 4% और 12 लाख पर 3% की छूट दी गई है।

                                                                   पीएम ने कहा कि देशवासियों ने जो कष्ट झेला है, वो भारत के उज्जवल भविष्य के लिए नागरिकों के त्याग की मिसाल है। भ्रष्टाचार, कालाधन, जाली नोट के खिलाफ लड़ाई में एक कदम भी पीछे नहीं रहना चाहते हैं। आपका ये प्यार आशीर्वाद की तरह है।साथ ही पीएम ने कहा कि वरिष्ठ नागरिकों को 7.5 लाख रुपए तक की राशि पर 10 साल तक के लिए सालाना 8 प्रतिशत की दर से ब्याज मिलेगा, जिसे वह हर महीने निकाल सकेंगे।बैंकिंग व्यवस्था पर बोलते हुए पीएम ने कहा कि इसे सामान्य करने पर ध्यान केंद्रित किया जाए।

                                                       विशेषकर ग्रामीण इलाकों में, दूर-दराज वाले इलाकों में प्रो-एक्टिव होकर हर छोटी से छोटी कमी को दूर किया जाना चाहिए।उन्होंने कहा कि आपको जानकर हैरानी होगी कि सरकार के पास दर्ज की गई जानकारी के हिसाब से देश में सिर्फ 24 लाख के करीब लोग यह स्वीकारते हैं कि उनकी सलाना आय दस लाख से ज्यादा है। उन्होंने कहा कि बड़े नोट महंगाई ला रहे थे, कालाबाजारी कर रहे थे और गरीबों का हक छीन रहे थे।पीएम ने कहा कि बैंक कर्मचारियों ने भी देर रात तक रुक कर इस अभियान में शामिल रहे।

                                                    पोस्ट ऑफिस में काम करने वाले और सभी लोगों ने सराहनीय काम किया। हालांकि, कुछ बैंकों के लोगों ने गंभीर अपराध में शामिल होकर गंभीर अपराध किए। इन्हें बख्शा नहीं जाएगा। देश के सभी बैंकों से आग्रहपूर्वक कहना चाहता हूं कि बैंक गरीबों, मध्यमवर्ग को केंद्र में रखकर कार्य करें।पीएम ने कहा कि सरकार कुछ नई योजनाएं ला रही है। स्वतंत्रता के इतने सालों बाद भी देश के कई गरीबों के पास जरूरतमंद चीजें नहीं है।

                                                   गरीब, मध्यमवर्ग के लोग घर खरीद सके, इसके लिए बड़े फैसले लिए गए हैं। इन लोगों के लिए दो बड़ी स्कीमें बनाई गई हैं। इसके लिए 2017 से 9 लाख रुपये तक के कर्ज पर चार प्रतिशत तक छूट और 12 लाख पर तीन प्रतिशत की छूट दी जाएगी।पीएम मोदी ने कहा कि पिछले साल की तुलना में इस वर्ष रबी की बुवाई 6 प्रतिशत ज्यादा हुई है। सरकार ने इस बात का ध्यान रखा है कि किसानों को दिक्कत न आए। उनके हित में कई फैसले किए गए हैं। कॉपरेटिव बैंक और ग्रामीण से किसानों को और कर्ज मिल सके, इसके लिए कई काम किए गए हैं।पीएम ने आगे कहा कि अगले तीन महीने में 3 करोड़ किसान क्रेडिट कार्डों को RUPAY कार्ड में बदला जाएगा।मुद्रा योजना पर बोलते हुए पीएम ने कहा कि पिछले साल साढ़े तीन करोड़ लोगों ने इसका फायदा उठाया है।

                                                   सरकार का अब इसे डबल करने का इरादा है। उन्होंने कहा कि मैं माता-बहनों से कहना चाहता हूं कि गर्भवती महिलाओं के लिए भी एक योजना की शुरूआत होने जा रही है। सरकार ऐसी महिलाओं को अस्पताल में पंजीकरण, पौस्टिक आहार आदि के लिए छह हजार करोड़ रुपये की मदद करेगी। इसके लिए ये राशि सीधे उनके खाते में जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *