मुरारका को विजय ने बताया कांग्रेस एजेन्ट…कहा जयचंद का कराया जाए नार्को टेस्ट…सामने आ जाएगा कांग्रेसी का चेहरा

बिलासपुर— भाजपा नेता विजय ताम्रकार ने कैलाश मुरारका का नार्को टेस्ट कराए जाने की मांग की है। विजय ने मुरारका पर गद्दार और अवसरवादी होने का आरोप लगाया है। ताम्रकार ने कहा कि ऐसा ही होता है जब पार्टी किसी को करनी की सजा देती है तो पागलों की तरह चिल्लाना शुरू कर देता है। मुरारका के परिजनों को सलाह है कि मनोचिकित्सक से इलाज कराएं।
              मुरारका के मीडिया बयान से नाराज भाजपा वरिष्ठ नेता विजय ताम्रकार ने कहा कि कैलाश की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। परिजनों को सलाह है कि उसका मानसिक इलाज कराए। इसके बाद कोर्ट नार्को टेस्ट कराने का आदेश दे। ताम्रकार ने कहा कि पार्टी के अन्दर रहकर कांग्रेस के लिए काम करने वालों का यही हाल होता है जैसा कैलाश मुरारका का हुआ है।
              प्रेस नोट जारी कर विजय ताम्रकार ने बताया कि कैलाश मुरारका कांग्रेस नेताओं से मिला हुआ है। फर्जी सैक्स सीडी उसी के फिरती दिमाग की उपज है।  जब सीबीआई ने पोल खोली तो मोरारका ने अनाप शनाप बकना शुरू कर दिया है। कल तक मोरारका पार्टी का बखान करते नहीं अघाता था। पोल खुलने और पार्टी से निष्कासित होते ही मोरारका की जुबान कांग्रेसियों की जुबान बोलने लगी है।
              ताम्रकार ने मांग की है कि मोरारका का नार्को टेस्ट कराया जाए। नार्को टेस्ट के बाद जाहिर हो जाएगा कि उसका किस कांग्रेसी नेता से संबध थे। किसने मंत्री के खिलाफ फर्जी सेक्स सीडी बनाने का टोकन दिया था। विजय ने प्रेस नोट में यह भी बताया कि मुरारका कांग्रेस पार्टी का एजेन्ट है। जब पार्टी में उसकी दाल नहीं गली तो पद पाने के लिए कांग्रेस नेताओं से हाथ मिलाकर मंत्री को बदनाम करने का प्रयास किया। मुरारका के मीडिया बयान से जाहिर हो गया है कि पार्टी से निष्कासन ना केवल उचित था। बल्कि बयानवाजी से स्पष्ट हो गया है कि वह भाजपा में रहकर कांग्रेस के लिए मीरजाफर और जयचंद की तरह काम कर रहा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *