मौसम ने बदली करवट,बिलासपुर समेत कई इलाकों में बारिश,रबी फसलों को नुकसान की आशंका,धान खरीदी होगी प्रभावित

Chhattisgarh,रायपुर,बिलासपुर,प्रदेश,हिस्सों, भारी बारिश,मौसम विभाग,प्रशासन ,अलर्ट,Mumbai Heavy Rains Latest Update,Heavy Rain, Tamil Nadu, Puducherry, Kerala, South Interior Karnataka, Lakshwadeep, Andaman Nicobar Islands,

बिलासपुर।मौसम ने एक बार फिर करवट बदली है।सोमवार को पूरे दिन आसमान पर घने बादल छाए रहे।वहीं मंगलवार को सुबह 10:00 बजे बारिश हुई।मौसम विभाग ने बुलेटिन भी जारी किया है।मौसम विभाग के अनुसार आगामी 24 घंटे में बेमेतरा जिले के कई स्थानों में गरज चमक के साथ बारिश होने और बिजली गिरने की संभावना जताई है।इस साल मौसम के अनिश्चितता लोगों के लिए परेशानी का सबब बनी हुई है और 1 सप्ताह में मौसम करवट लेता है और बदली बारिश की स्थिति बन जाती है।बिलासपुर उर आसपास के इलाकों में भी मंगलवार सुबह दस बजे करीब बारिश हुई।

पिछले शनिवार को मौसम का तेवर बदला और पूरे दिन घने बादल छाए थे तब से लेकर पिछले 3 दिन से बदली बारिश की स्थिति बनी हुई है।सोमवार को राजनांदगांव दुर्ग जिले के कई स्थानों पर हल्की बारिश हुई।बेमेतरा जिला के साजा थान खमरिया क्षेत्र में भी हल्की बारिश हुई बादलों के बीच ठंडी हवा चलने से एक बार फिर से लौट आई है। सोमवार को दिन में ही ठिठुरन महसूस हुई मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटों में इस तरह का मौसम बने रहने की संभावना जताई है। इसके अलावा और बिलासपुर संभाग में ओलावृष्टि की संभावना है।

और बारिश ने एक बार फिर किसानों की चिंता बढ़ा दी है। लगातार रबी फसलों में कीट प्रकोप बढ़ने की आशंका है।वही सब्जी के फसलों को भी से भारी नुकसान होने का अनुमान है।इस साल 1 दिसंबर से धान खरीदी शुरू होने के बाद से ही बीच में बारिश के चलते धान की खरीदी प्रभावित होती रही है।ज्यादा बारिश होने पर कुछ समय के लिए के खरीदी बंद करनी पड़ी थी।वही केंद्रों में धान के भीगने का भी खतरा रहता है।

ज्यादा बारिश होने पर केंद्रों से धान का परिवहन भी ठप हो जाता है। 2 दिन से बादल छाने व बारिश की संभावना ने एक बार फिर अधिकारियों की चिंता बढ़ा दी है।अब धान खरीदी के लिए महज 10 दिन बचे हैं। यदि बारिश होती है तो धान खरीदी का लक्ष्य पूरा होने में अड़चन आ सकती हैं।वही जो किसान नहीं भेज पाए हैं उन्हें भी समर्थन मूल्य में धान बेचने और बोनस से वंचित रहना पड़ सकता है।

Tags:, ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *