यशस्वी जशपुर कार्यक्रम : शिक्षा में उच्च गुणवत्ता हेतु जिले के प्राचार्यों एवं व्याख्याताओं को अंतर्राष्ट्रीय शिक्षा पर ऑनलाइन प्रशिक्षण 24 से

जशपुर।    जिला प्रशासन द्वारा  कलेक्टर महादेव कावरे के मार्गदर्शन मे संचालित यशस्वी  जशपुर कार्यक्रम के तहत जशपुर  जिले में  शिक्षा में उच्च गुणवत्ता हेतु प्राचार्यों एवं व्याख्याताओं को अंतर्राष्ट्रीय  शिक्षा पर विभिन्न चरणों में ऑनलाइन  प्रशिक्षण  दिया जायेगा।  यह सर्वविदित है कि जब से जिला प्रशासन द्वारा  जिले मे यशस्वी जशपुर कार्यकम प्रारम्भ किया गया है, तब से जिले मे शिक्षा की गुणवत्ता बेहतर हुई है।

वर्तमान मे कोविड-19 संकट के कारण स्कूलों मे पढाई नही हो रही । लेकिन जशपुर जिले के शिक्षक ऑनलाइन कक्षा के साथ साथ अन्य विभिन्न गतिविधियाँ के द्वारा  पठन पाठन करा रहे हैं।विगत तीन महिनों मे जिले के चार हज़ार से अधिक शिक्षकों को प्रभावी ढंग से शिक्षण करने का ऑनलाइन प्रशिक्षण यशस्वी जशपुर के मास्टर ट्रेनर दे चुके है।            इस बारे में जानकारी देते हुए जिला शिक्षा अधिकारी एन.कुजूर ने बताया कि  यह प्रशिक्षण  Webex meeting app के माध्यम से पूर्णतःऑनलाइन  होगा। जिले के समस्त विकास खण्ड शिक्षा अधिकारी, प्राचार्य, व्याख्याता एवं संकुल समन्वयक इस  प्रशिक्षण  में सम्मिलित होगें। प्रशिक्षण  जिला स्तर पर तीन चरणों में संपन्न होगा। प्रथम चरण में प्राचार्यों एवं द्वितीय एवं तृतीय चरण में व्याख्याताओं का प्रशिक्षण  होगा। प्रचार्यों को  संजय दास, अरविंद मिश्रा,कमल चंदेल, अयोध प्रसाद गुप्ता और नवनीत नारंग  की टीम प्रशिक्षण देंगे। प्रत्येक चरण के  प्रशिक्षण की अवधि 04 दिवस की होगी एवं प्रत्येक दिवस में 2 घण्टे मास्टर ट्रेनर्स द्वारा प्रशिक्षण  दिया जायेगा। प्रथम चरण का  प्रशिक्षण दिनांक 24. से  27 अगस्त तक एवं द्वितीय चरण का  प्रशिक्षण दिनांक 28 से 31 अगस्त तक तथा तृतीय चरण का  प्रशिक्षण 1 से 4 सितम्बर तक होगा। प्रथम चरण में सिर्फ प्राचार्यों का  प्रशिक्षण  होगा। द्वितीय चरण में पत्थलगांव, दुलदुला, कुनकुरी एवं बगीचा विकासखण्ड एवं तृतीय चरण में जशपुर , मनोरा, कांसाबेल, फरसाबहार विकासखण्ड के व्याख्याताओं का  प्रशिक्षण  होगा। 

यशस्वी  जशपुर के नोडल अधिकारी विनोद कुमार गुप्ता ने बताया कि प्रथम चरण में होने वाले प्राचार्यों के प्रशिक्षण की समस्त जानकारी  यशस्वी  जशपुर  के प्राचार्यों के वाट्सएप्प ग्रुप में प्रेषित की जायेगी। द्वितीय एवं तृतीय चरण में होने वाले व्याख्याताओं के  प्रशिक्षण हेतु जिला स्तर से विकासखण्डवार वाट्सएप्प ग्रुप बनाया जायेगा, जिसका लिंक यशस्वी  जशपुर  के प्राचार्यों के वाट्सएप्प ग्रुप में प्राचार्यों को प्रेषित किया जायेगा। प्राचार्य स्वयं इस लिंक से जुड़ेंगे एवं अपने विद्यालय के समस्त व्याख्याताओं को इस लिंक को प्रेषित कर उन्हें जुड़ने हेतु  निर्देशित  करेंगे। व्याख्याताओं के प्रशिक्षण की समस्त जानकारी एवं ऑनलाइन  प्रशिक्षण का लिंक प्रत्येक दिवस उपरोक्त वाट्सएप्प ग्रुप में प्रेषित किया जायेगा। प्राचार्य एवं संकुल समन्वयक प्रतिदिन व्याख्याताओं के ऑनलाइन  प्रशिक्षण में सम्मिलित होकर क्रमश: अपने विद्यालय के व्याख्याताओं एवं संकुल के व्याख्याताओं की उपस्थिति सुनिश्वित करेंगे। प्रत्येक दिवस की उपस्थिति की जानकारी हेतु प्रतिदिन प्राचार्यों को  यशस्वी  जशपुर  के प्राचार्यों के वाट्सएप्प ग्रुप में एवं समस्त संकुल समन्वयक को मिशन 100 वाट्सएप्प ग्रुप में एक गुगल फार्म प्रेषित किया जायेगा, जिसे संबंधित प्राचार्य एवं संकुल समन्वयक  भरेगें । जिला स्तर से प्रतिदिन प्रशिक्षण  की मानिटरिंग की जायेगी।  समस्त विकास खण्ड शिक्षा अधिकारी, प्राचार्य, व्याख्याता एवं संकुल समन्वयकों को  प्रशिक्षण में सम्मिलित होना अनिवार्य होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *