मेरा बिलासपुर

युवा संसद में स्कूली बच्चों की प्रभावी प्रस्तुति

yuwa 1

बिलासपुर ।स्कूल शिक्षा विभाग की ओर से यहां युवा संसद कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें जिले के अलग-अलग विकासखंडों के कई स्कूलों से छात्र-छात्राओँ ने हिस्सा लिया।बच्चों का यह प्रदर्शन सराहनीय रहा।

प्रमुख सचिव संसदीय विभाग छत्तीसगढ़ शासन की ओर से  जारी पत्र में सचिव स्कूल शिक्षा विभाग एव प्रदेश के सभी संभाग आयुक्त को पत्र लिख कर प्रदेश की शालाओ में अध्यंरत विद्यार्थियो को प्रजातांत्रिक व्यवस्था को जानने समझने की मंशा को आधार मानकर प्रत्येक  विकासखंड की एक शाला का चिन्हांकन किया गया ।
इन चयनित शाला के 55 वियर्थियो में से 30 पक्ष 12 प्रतिपक्ष 1 सभापति 1 उप सभापति 3 विदेशी प्रतिनिधि 2 पत्रकार 1 मार्शल  4 संसदीय सचिव 1 महा सचिव की भूमिका में विद्यार्थियों ने  हिस्सा लिया।
संसद की कार्यवाही में सभापति का आगमन सदयों द्वारा शपथ ग्रहण ,मृत सदस्यों को श्रद्धांजलि ,नवीन मंत्रियो का संसद से परिचय फिर प्रश्न काल, ध्यनाकर्षण- स्थगन इत्यादि के साथ विभिन्न मंत्रियो के विभागीय प्रश्न एव उनके उत्तरो की कार्यवाही प्रस्तुत की गई।
जिला शिक्षा अधिकारी बिलासपुर ने जिले के सात विकासखण्डो की सात शालाओ का इस कार्यक्रम हेतु चिन्हांकन किया ।

yuwa 2

इन शालाओ में कोटा विकास खंड की शहीद नूतन सोनी उ मा शाला रतनपुर, बिल्हा वि ख से शा उ मा शाला तिफरा, तखतपुर से शा क उ मा शाला सकरी, मस्तूरी वि ख से शा उ मा शाला दर्रीघाट ,वि ख गौरेला से मिश्रीदेवी कन्या उ मा गौरेला, वि ख मरवाही से कन्या मरवाही ,पेंड्रा वि ख से बहु उ मा शाला पेंड्रा के प्रतिभागियो ने अपनी प्रस्तुति प्रदान की ।इस कार्यक्रम की वास्तविक अनुभूति के लिये संसद बने विद्यार्थियो ने मिडिया को भी अनुभव किया और उनके प्रश्नो को जवाब में रूपांतरित किया ।इस कार्यक्रम के जिला समन्वयक अजय कौशिक और तीन प्रचार्य-रजनीश अरोरा, श्रीमती अर्चना शर्मा व श्रीमती ममता मिश्रा ने प्रतिभागियों का मूल्यांकन किया ।
इस कार्यक्रम को युवा संसद का नाम दिया गया । सभी शालाओ के द्वरा बच्चों ने अपनी उत्कृष्ठ प्रस्तुति दी ।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS