हमार छ्त्तीसगढ़

रथ यात्रा आस्था का पर्व

rath yatra rpr

रायपुर । राज्यपाल  बलरामजी दास टंडन और मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह शनिवार को  यहां रायपुर के गायत्री नगर स्थित भगवान श्री जगन्नाथ मंदिर में श्री जगन्नाथ सेवा समिति के तत्वावधान में आयोजित रथयात्रा में शामिल हुए। राज्यपाल  एवं मुख्यमंत्री  ने जगन्नाथ मंदिर से रथ तक के मार्ग में सोने की झाडू़ से बुहारी लगाकर छेरा-पहरा की रस्म पूरी की। राज्यपाल की धर्मपत्नी श्रीमती बृृजपाल टंडन एवं मुख्यमंत्री की पत्नी श्रीमती वीणा सिंह ने भगवान श्री जगन्नाथ जी के मार्ग में पवित्र जल का छिड़काव किया। श्रद्धा एवं आस्था के इस अवसर पर गृृह मंत्री  रामसेवक पैकरा, कृषि मंत्री  बृृजमोहन अगव्राल सपत्नीक, वन मंत्री  महेश गागड़ा भी विशेष रूप से उपस्थित थे।
अपूर्व श्रद्धा एवं उत्साह से ढोल नगाड़े एवं शंख की मधुर ध्वनि के साथ प्रभु जगन्नाथ, बलभद्र और सुभद्रा की प्रतिमाएं, रथ तक लाई र्गइं और पोहण्डी बिजे की प्रथा निभाई गई। परम्परागत विधि-विधान से भगवान श्री जगन्नाथ जी की मूर्ति नंदीघोष रथ पर, उनके भाई बलभद्र की मूर्ति तालध्वज रथ एवं बहन सुभद्रा की मूर्ति देवदलन रथ पर रखकर नगर भ्रमण पर रवाना हुईं।
इस अवसर पर राज्यपाल श्री टंडन ने प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी और कहा कि भगवान जगन्नाथ जी की रथ यात्रा हमारी आस्था का पर्व है और जनसामान्य के लिए यह दिन अत्यंत महत्वपूर्ण है। हमारी संस्कृति से गहराई से जुड़ा यह पर्व सभी के जीवन के लिए मंगलमय होगा। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि रथ यात्रा का यह दिन प्रदेश और पूरे देश के लिए शुभ दिन है।
इस अवसर पर बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने प्रभु जगन्नाथ की जयकार से वातावरण को और अधिक भक्तिमय बनाया। इससे पहले श्री जगन्नाथ सेवा समिति के अध्यक्ष  पुरंदर मिश्रा ने राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री का मंदिर परिसर में पहुंचने पर हार्दिक स्वागत किया।

 

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS