रसूखदारों को भी नहीं मिली राहत

1106015_BILASPUR_YATAYAT_THANA_VISUVAL 004बिलासपुर—हाईकोर्ट के दिशानिर्देश के बाद क्षेत्रीय परिवहन विभाग के अधिकारियों ने रेलवे क्षेत्र में संयुक्त अभियान से आटो चालकों में जमकर हड़कम्प देखने को मिला। आरटीओ और यातायात के अधिकारियों ने बेतरतीब खड़े आटो रिक्शा के परमिट, दस्तावेज आडे-तिरछे लिखे नम्बर प्लेटों की जांच की । टीम ने क्षमता से अधिक सवारी ढोने वाले आटो चालको पर जुर्माना ठोंका।

                      हाईकोर्ट ने पिछले दिनों कलेक्टर समेत 15 अधिकारियों को शहर को व्यवस्थित करने फटकार लगाई थी। कोर्ट ने जिला प्रशासन को रेलवे क्षेत्र में व्यवस्था सुचारू रूप से संचालित करने को कहा था। इस बात के मद्देनजर आज यातायात विभाग और आरटीओ की संयुक्त टीम ने रेलवे क्षेत्र में जमकर अभियान चलाया।  सुबह से ही यातायात विभाग और आरटीओ की संयुक्त टीम को देखकर आटोचालकों को सांप सूघ गया।

                      संयुक्त टीम ने आटो चालकों  के दस्तावेजों मे कमी पाई जाने पर चालान काटा। कार्रवाई के भय से भागने वालों पर नजर रखने के लिे टीम ने रेलवे स्टेशन से लेकर चर्च चौक तक जवानों को पहले से ही तैनात कर दिया था। कार्रवाई के दौरान आरटीओ और यातायात विभाग ने क्षमता से अधिक सवारी बैठाने वाले आटो में अतिरिक्त सीट और तीन सवारी के साथ ही काली फिल्म वाहनों और नम्बर प्लेटों के साथ छेड़छाड़ करने वालों पर भी  कार्रवाई की ।

                        दोपहर तक यातायात विभाग और आरटीओ ने कीब दो दर्जन 13 वाहनों पर कार्रवाई कर किया। इस दौरान कई वाहन चालक रेलवे क्षेत्र में प्रवेश करने से तौबा किया। कार्रवाई के दौरान कुछ लोग पहुंच का इस्तेमाल भी करते दिखाई दिए। अधिकारी और जवानों ने हाईकोर्ट के निर्देश की बात कहते हुए किसी भी वाहन को मुफ्त में छोडने से इनकार कर दिया। दोपहर तक आरटीओ ने हजारों रूपए बतौर जुर्माना वसूल किए ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *