राजेन्द्र ने किया सुराज अभियान का विरोध…धरम ने ली चुटकी

IMG-20170509-WA0013 IMG-20170509-WA0015 बिलासपुर—बिल्हा विधानसभा पथरिया ब्लाक के पड़ियाईन में लोकसुराज समस्या निवारण शिविर का कांग्रेसियों ने विरोध किया। शासन प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। बीच पंडाल में कांग्रेसियों ने जिला कांग्रेस ग्रामीण अध्यक्ष राजेन्द्र शुक्ला की अगुवाई में धरना प्रदर्शन किया। हो हंगामा शांत करने एसडीएम शौरी को जमकर पसीना बहाना पड़ा।  इस दौरान मंच से भाजपा प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने कांग्रेस पार्टी पर जमकर चुटकी ली।

                        बिल्हा विधानसभा पथरिया ब्लाक के पड़ियाईन गांव में लोकसुराज समस्या निवारण शिविर का आयोजन किया गया। कार्यक्रम को जिला प्रशासन के प्रतिनिधि एसडीएम और भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने संबोधित किया। जिला प्रशासन ने पड़ियाईन क्लस्टर के सभी आवेदनों की जानकारी दी। इस दौरान पात्र और अपात्र हितग्राहियों के आवेदनों की जानकारी दी गयी।

                                            प्रदेश भाजपा अध्यक्ष धरम लाल कौशिक ने कहा कि समस्या निवारण शिविर का मुख्य उद्देश्य लोगों की समस्याओं का ना केवल निवारण करना। बल्कि सरकार की जनहितैषी योजनाओं को अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाना है।

                 धरमलाल कौशिक जब सभा को संबोधित कर रहे थे उसी दौरान कांग्रेसियों ने जमकर हंगामा किया। पहले तो सभी कांग्रेसियों ने समस्या निवारण शिविर पण्डाल के बाहर पण्डाल लगाकर सुराज अभियान का विरोध किया। इसके कुछ देर बाद सभी कांग्रेसी राजेन्द्र शुक्ला के साथ समस्या निवारण शिविर में पहुंच गए। कांग्रेसियों के साथ भीड में शामिल ग्रामीणों ने भी सुराज अभियान की सार्थकता पर सवाल किए।  सभी कांग्रेस नेता राजेन्द्र शुक्ला के बातों का समर्थन किया।

                           IMG-20170509-WA0012राजेन्द्र शुक्ला ने प्रदेश अध्यक्ष और जिला प्रशासन से मुखातिब होकर कहा कि समस्या निवारण शिविर के नाम पर सरकार के नुमाइंदे पिकनिक मना रहे हैं। जिन हितग्राहियों के आवेदनों का निराकरण नहीं किया गया वे लोग अब क्या करें…सरकार को बताना होगा। राजेन्द्र शुक्ला ने कहा कि किसान जानना चाहता है कि बोनस और समर्थन मूल्य कब दिया जाएगा। सरकार बोनस का निराकरण कब करेगी।

            राजेन्द्र शुक्ला ने फसल बीमा योजना पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि …हजारों किसानों का बीमा भुगतान नहीं किया गया है। मनरेगा मजदूर अपनी मजदूरी के लिए दर-दर भटक रहे हैं। क्षेत्र में पानी की भारी किल्लत है…। सैकड़ों गरीबों का नाम राशन कार्ड से बेवजह काट दिये गए हैं। इतने से कहीं ज्यादा गरीबों का नाम आवेदन दिए जाने के बाद भी राशन कार्ड में जो़ड़ा नहीं गया है। समझ में नहीं आ रहा है कि सरकार समस्या का निवारण कर रही है या समस्याओं की गिनती कर रही है।

                               राजेन्द्र ने मंच पर उपस्थित भाजपा नेताओं की उपस्थिति को लेकर भी नाराजगी जाहिर की। उन्होने कहा कि समस्या का निराकरण शासन के नुमाइंदों को करना है। इसलिए वे मंच पर नहीं जाएंगे। सरकार को बताना होगा कि आखिर किसानों को बोनस,मनरेगा मजदूरों की मजदूरी क्यों नहीं दी जा रही है। उन्होने एसडीएम और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष से सवाल किया कि जिन आवेदनों का निराकरण नहीं किया गया है उन्हें क्या अगले साल के साल के खाते में डाल दिया गया है।

                     इस दौरान उपस्थित कांग्रेसियों को एसडीएम शौरी और धरमलाल कौशिक ने शांत करने का प्रयास किया। देखते ही देखते कांग्रेसियों के साथ पंडाल में मौजूद हितग्राहियों ने भी शासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी करने लगे। अंत मेंं बेकाबू कांग्रेसी और भीड़ को देख मंच पर उपस्थित लोगों को कार्यक्रम को बीच में ही छोड़ना पड़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *