राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर फिल्मी स्टाइल में साधा निशाना, ‘लाइट्स, कैमरा, स्कैम…’

Indira Gandhi, Bharatiya Janata Party, Rahul Gandhi, 2014 General Election,नईदिल्ली।राफेल घोटाले पर मोदी सरकार को लगातार घेरने के बाद अब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अब IL&FS संकट को लेकर प्रधानमंत्री पर फिल्मी स्टाइल में निशाना साधा है. राहुल ने नरेन्द्र मोदी पर आरोप लगाया कि वे 2007 में गुजरात के मुख्यमंत्री रहते IL&FS कंपनी को 70,000 करोड़ रुपये का प्रोजेक्ट दिया था लेकिन आज तक कोई काम नहीं हुआ. उन्होंने कहा कि अब कर्ज में डूबे इस कंपनी को सार्वजनिक जगहों पर लगे जनता के पैसों से उसे बेलआउट (मदद के लिए रुपये देना) करवा रहे हैं.राहुल गांधी ने फिल्मी अंदाज में ‘लाइट्स, कैमरा, स्कैम’लिखते हुए ट्वीट किया-लाइटस, कैमरा, स्कैम

सीन 1: 2007, CM मोदी IL&FS कंपनी को 70,000 करोड़ का प्रोजेक्ट GIFT CITY देते हैं. आजतक कुछ काम नहीं. जालसाजियां आईं सामने.

सीन 2: 2018, PM मोदी LIC-SBI में लगे जनता के पैसे से 91000 करोड़ की कर्जदार IL&FS को बेलआउट दे रहे हैं.

‘चौकीदार की दाढ़ी में तिनका’ 

बता दें कि इंफ्रास्ट्रचर लीजिंग एंड फाइनेंशियल सर्विसिस लिमिटेड (IL&FS) एक सरकारी क्षेत्र की कंपनी है जिस पर तकरीबन 91,000 करोड़ रुपये कर्ज है. इसमें 60 फीसदी निजी हिस्सेदारी है और 40 फीसदी सरकारी बैंकों और एलआईसी का है. हाल ही में पता चला कि कंपनी लिए गए कर्ज का लगातार तीसरा किश्त चुकाने में नाकाम रही है.

IL&FS में एलआईसी की 25.34 फीसदी, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की 7.67 फीसदी और भारतीय स्टेट बैंक की 6.42 फीसदी हिस्सेदारी है. इसके अलावा इसमें जापान की ओरिक्स कॉर्प की 23.5 फीसदी और अबुधाबी की निवेश विभाग की 12.5 फीसदी हिस्सेदारी है.

इससे पहले शनिवार को कांग्रेस पार्टी ने आरोप लगाते हुए कहा था कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) सरकार की कार्यप्रणाली लाभ कमा रही सरकारी कंपनियों के धन से कॉरपोरेट कंपनियों को बेलआउट करना है, जिसके जरिए वह करोड़ों भारतीयों की जमा-पूंजी को जोखिम में डाल रही है.

कांग्रेस प्रवक्ता गौरव वल्लभ ने कहा था, ‘हमने देखा कि जीएसपीसी घोटाले को ढंकने के लिए किस प्रकार से ओएनजीसी का इस्तेमाल किया गया, घाटे में चल रही आईडीबीआई बैंक को उबारने के लिए एलआईसी का इस्तेमाल किया गया और अब 60 फीसदी निजी हिस्सेदारी वाली आईएलएंडएफएस को उबारने के लिए एलआईसी और एसबीआई का इस्तेमाल किया जा रहा है.’

कांग्रेस नेता ने यह भी कहा कि आईएलएंडएफएस पर मोदी सरकार के केवल चार साल के कार्यकाल में भारी-भरकम 42,420 करोड़ रुपये का कर्ज चढ़ गया है.

बता दें कि राहुल गांधी लगातार प्रधानमंत्री पर अलग-अलग अंदाज में ट्वीट कर निशाना साध रहे हैं. शनिवार को उन्होंने ट्वीट कर एक हिंदी गाने के बोल में लिखा था,

साहेब का कमाल देखो
राफेल का घोटाल देखो
रुपए की टेढ़ी चाल देखो
तेल में उछाल देखो

मुंबई में-
पेट्रोल- ₹90.75
डीजल- ₹79.23

दिल्ली में-
पेट्रोल- ₹83.4
डीजल- ₹74.63

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *