मेरा बिलासपुर

रिंगर देगा स्मार्ट बिलासपुर की जानकारी

1/9/2001 10:21 PMबिलासपुर— प्रदेश से सिर्फ दो शहरों को ही स्मार्ट सिटी का दर्जा मिलेगा। जिसकी ज्यादा रेटिंग होगी उसे स्मार्ट सिटी दर्जा हासिल होगा। बिलासपुर की उम्मीदें कायम हैं। निगम के विकास के लिए जो कुछ करना होगा किया जाएगा। आज दो योजनाओं के उद्घाटन करने के बाद निकाय एवं वाणिज्य कर मंत्री अमर अग्रवाल ने कही।

                   रिंगर और स्मार्ट बिलासपुर एप्स को बिलासपुर जनता को लोकार्पित करते हुए अमर अग्रवाल ने कहा कि प्रदेश के दो शहरों को स्मार्ट सिटी का दर्जा दिया जाएगा। जिसकी रेटिंग ज्यादा होगी उसे स्मार्ट सिटी बनाया जाएगा। ये कौन शहर होंगे इस पर सिर्फ कयास ही लगाया जा सकता है। इसलिए बिलासपुर की संभावना को इंकार नहीं किया जा सकता है। अमर अग्रवाल ने कहा कि स्मार्ट सिटी के लिए अलावा शासन अमृत योजना के तहत एक लाख से ज्यादा आबादी वाले शहरों को स्मार्ट सिटी की तर्ज पर विकसित करेगा। इस योजना में दो स्मार्ट सिटी को छोड़कर प्रदेश के सभी निगम वाले शहर शामिल होंगे।

                     रिंगर और स्मार्ट बिलासपुर एप्स को लांच करने के बाद अमर अग्रवाल ने पत्रकारों से बताया कि यह अपने आपमें एक अभिनव पहल है। रिंगर योजना के जरिए ट्रैफिक नियमों के पालन के साथ ही सरकार की योजनाओं को भी जन जन तक पहुंचाया जाएगा। उन्होंने बताया इस म्यूजिकल प्रयोग से लोगों को यातायात नियमों की जानकारी मिलेगी साथ ही लोग सरकार की बहु योजनाओं की जानकारी चलते फिरते हासिल कर सकेंगे। किसी विभाग विशेष का चक्कर भी नहीं लगाना पड़ेगा।

               रिंगर योजना का प्रयोग बिलासपुर शहर के पांच चौक चौराहो में होना है। इसकी शुरूआत नेहरू चौक से की गयी है। जन-सुरक्षा जागरुकता अभियान की शुरुवात करते हुए नगरीय निकाय मंत्री अमर अग्रवाल ने बताया कि आज से स्मार्ट बिलासपुर एप्स ने काम करना शुरू कर दिया है। बिलासपुर की जनता को इस एप्लीकेशन का लाभ मिलेगा। इस योजना से आम जनता के साथ ही नगर निगम को अपनी गलती सुधारने का अवसर मिलेगा । शहरवासी अब अपनी समस्याओं को स्मार्ट बिलासपुर में पूरी जानकारी के साथ भेज सकेंगें। जिससे निगम का अमला उस जगह पर पहुंचकर लोगों की समस्यायों का निदान करेगा।

बढ़ाया गया लॉकडाउन, सिर्फ जरूरी सेवाओं को रहेगी छूट

शहर को बनाएंगे स्मार्ट

           शहर को हम हर सूरत में स्मार्ट बनाएंगे। जिसकी रेटिंग ज्यादा होगी उसी शहर को स्मार्ट सिटी का दर्जा मिलेगा। इसलिए अभी बिलासपुर की संभावना बरकरार है। रिंगर जैसी योजना से एक पंथ कई काज होंगे। यातायात नियमों की जानकारी के अलावा इस म्यूजिकल अभियान से शासन की योजनाओं की भी जानकारी चलते फिरते लोगों को मिलेगी।

                                                                                     अमर अग्रवाल..निकाय एवं वाणिज्य कर मंत्री छत्तीसगढ़

काम होगा आसान

               स्मार्ट बिलासपुर एप्स का फायदा निगम और जन दोनों को ही मिलेगा। हमें इसके माध्यम से नगर के किसी कोने में हो रही परेशानी की जानकारी मिलेगी। जनता अपनी समस्याओं को सीधे स्मार्ट बिलासपुर एप्स में डालेंगे। निगम प्रशासन समस्या को निदान करने का पुरजोर प्रयास करेगा। इस योजना से कर्मचारियों की लापरवाही और उदासीनता भी सबके सामने आएगी। इसलिए किसी गलती को छिपाने का प्रयास नहीं होगा।

                                                                                                        रानू साहू…कमिश्नर..निगम बिलासपुर

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS