..रेणु जोगी ब्लाक कांंग्रेस कमेटी में टिकट दावेदारी करेंगी..? या जनता कांग्रेस से लड़ेंगी..विजय ने टाला सवाल

बिलासपुर– यह तो निश्चित हो गया है कि अब कांग्रेस पार्टी टिकट दावेदारों को ब्लाक कमेटी के सामने ही आवेदन करना होगा। चाहे नया नेता हो या अनुभवी और पुराना ही नेता क्यों ना हो सबको ब्लाक कमेटी से प्रोफार्मा लेने के बाद आवेदन करना ही होगा। यद्यपि प्रोफार्मा एक अगस्त से 7 अगस्त के बीच ब्लाक कमेटी से मिलेगा। लेकिन कई लोगों ने पहले से ही प्रोफार्मा लेकर भर लिए हैं। एक अगस्त को भरे गए प्रोफार्मा को संकल्प पत्र के साथ ब्लाक कमेटी में जमा करेंगे। प्रश्न और भी है कि वर्तमान कोटा विधायक रेणु जोगी क्या ब्लाक कमेटी से प्रोफार्मा लेकर जमा करेंगी। अथवा अजीत जोगी के दावे को सच साबित करेंगी कि पत्नी ने 40 साल से साथ निभाया है। उनकी बातों को नकार नही सकती हैं। फिलहाल लोगों में कौतुहल है कि क्या रेणु जोगी कांग्रेस की तरफ से कोटा विधानसभा के लिए दावेदारी करेंगी। या फिर…पाला बदलेंगी।

                           आज जिला कांग्रेस कमेटी के साथ बिलासपुर जिले के सभी ब्लाक अध्यक्षों की बैठक 2 बजे होने वाली है। बैठक में बूथ,जोन और सेक्टर प्रभारी शामिल होंगे। राजेश तिवारी और विजय केशरवानी सभी पदाधिकारियों को स्क्रीनिंग कमेटी और पीसीसी के फरमान से अवगत कराएंगे। पहले से ही स्पष्ट हो चुका है कि दावेदारों को पीसीसी का प्रोफार्मा ब्लाक कांग्रेस कमेटी से मिलेगा। यहीं पर उसे भरकर सकल्प पत्र के साथा जमा करना होगा। राजनीतिक क्षेत्र में हलचल है कि कोटा विधायक रेणु जोगी क्या प्रोफार्मा भरेंगी। क्या कांंग्रेस के लिए संकल्प पत्र जमा करेंगी। फिलहाल इसका निर्णय रेणु जोगी को ही करना है। क्योंकि कोटा क्षेत्र में आजकल रेणु जोगी सघन संपर्क अभियान में हैं। जाहिर सी बात है कि वह चुनाव तो लडेंगी..लेकिन पार्टी कौन से होगी..किसी को बताना मुश्किल है। यद्यपि पूर्व मुख्यमंत्री ने कई बार पत्रकारों के सवालों का जवाब दिया है कि पत्नी होने के कारण रेणु जोगी चालिस साल से साथ दे रही हैं। इसलिए उनसे दूर नहीं रहेंगी।

                       कोटा तहसील घेराव के दौरान नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव ने पत्रकारों को बताया कि रेणु जोगी ने पहले ही मंशा जाहिर कर दी है कि चुनाव तक कांग्रेस से ही जुड़ कर रहेंगी। इससे एक अनुमान लगाया जा सकता है कि रेणु जोगी इस बार कांग्रेस पार्टी से दावेदारी शायद ही करें। लेकिन क्षेत्र में सक्रियता देखने के बाद जाहिर होता है कि वह चुनाव जरूर लड़ेंगी।

               मामले में कोटा विधायक रेणु जोगी से संपर्क करने का प्रयास किया गया। लेकिन हार बार मोबाइल पर उत्तर आया कि स्वीच आफ है। लेकिन जनता कांग्रेस से अंदरूनी खबर मिल रही है कि रेणु जोगी चुनाव तो लड़ेंगी..लेकिन इस बार निशान पंजा नहीं होगा।

       मामले में जिला कांग्रेस अध्यक्ष विजय केशरवानी से भी संपर्क किया गया…लेकिन उन्होने कुछ भी कहने से इंंकार कर दिया। मुस्कुरा कर सवाल को टाल दिया। उन्होने हर सवाल का एक ही जवाब दिया कि दावेदारों को प्रोफार्मा भरना अनिवार्य है। आवेदनों को स्क्रीनिंग कमेटी के सामने रखा जाएगा। छानबीन के बाद दावेदारों के नाम का एलान किया जाएगा।

                         सवाल अब भी है कि क्या रेणु जोगी ब्लाक कांग्रेस कमेटी के सामने कांग्रेस से टिकट की दावेदारी करेंगी। फिलहाल संभावना कम ही है लेकिन चुनाव जरूर लड़ेंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *