रेत खदानों की लगी बोली…33 आवेदन निरस्त…कई को झटका..तो किसी की खुली किस्मत

बिलासपुर— जिला कार्यालय में बुधवार को कुल चार समूहों में 6 खदानों के लिए निविदा को खोला गया। चार खदान समूह के लिए कुल 843 आवेदन मिले। जिला प्रशासन के अनुसा्र जांच पड़ताल के दौरान 33 आवेदनों को अपात्र घोषित किया गया। जबकि 674 आवेदन ही सही पाए गए है। देर शाम तक सभी चार समूहों के लिए खदानों का आवंटन कर दिया गया है। 

                 मालूम हो की दो महीने पहले रेत खदानों की निविदा को खोला गया था। लेकिन विवादों के कारण खदान समूह ए और बी का फैसला टाल दिया गया। बुधवार को बिलासपुर के चार रेत खदान समूहों की निविदा को खोला गया।

                   बिलासपुर A समूह के लिए कुल आवेदन 153 आए। जांच पड़ताल के दौरान151 आवेदन सही पाए पाए। जबकि 2 आवेदनों को निरस्त कर दिया गया। सर्वाधिक बोली लगाने वाले मनोज कुंमार पाण्डेय को बिलासपुर A खदान को आवंटित किया गया है।

                             बिलासपुर रेत खदान समूह B के लिए कुल 346 लोगों ने आवेदन किया। 13 आवेदन अपात्र पाए गए। जबकि 346 पात्र आवेदन के बीच कागज निगम को खदान आवंटित किया गया। इसके अलावा बिलासपुर रेत खदान समहू  J के लिए कुल 136 आवेदन मिले। खबर लिखे जाने तक खदान किसे आंवटित किया गया। इसी जानकारी फिलहाल नहीं है। 

            इसके अलावा जिला प्रशासन ने बिलासपुर रेत खदान समूह K के लिए 208 में 18 आवेदनों को निरस्त कर दिया गया। कुल 190 आवेदन ही सही पाए गए। भाग्य का पिटारा संजीव मण्डल को हासिल हुआ।

                       जिला प्रशासन से मिली जानकारी के अनुसार 843 आवेदनों मेें 674 आवेदनों को सही पाया गया। जबकि 33 आवेदनों को निरस्त कर दिया गया है।

               सूत्रों की माने तो गुम्बर समूह ने बिलासपुर रेत खदान समूह A के लिए गुम्बर की तरफ से आवेदन किया गया था। 153 में से अकेले गुम्बर ने 100 आवेदन जमा किए थे।बावजूद इसके किस्मत ने धोखा दिया …रेत खदान मनोज पाण्डेय मिल गया। ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *