मेरा बिलासपुर

रेलवे ने किया हरिवंशराय को याद

1बिलासपुर। आज दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे, बिलासपुर के जोनल सभाकक्ष में कविवर हरिवंशराय बच्चन की जयंती मनाई गई। सर्वप्रथम संतोष कुमार, वरिष्ठ जनसम्पर्क अधिकारी, लिंगराज राउत, वरिष्ठ कार्मिक अधिकारी एवं विक्रम सिंह, वरिष्ठ राजभाषा अधिकारी द्वारा हरिवंशराय बच्चन के छायाचित्र पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ किया गया। इस अवसर पर 20 कर्मचारी उपस्थित थे और सभी ने बच्चनजी के छायाचित्र पर ससम्मान पुष्प अर्पित किए।

                               उक्त कार्यक्रम में विभिन्न वक्ताओं द्वारा बच्चनजी के जीवनवृत्त एवं रचनाओं पर तरह -तरह के विचार व्यक्त किए गए। मसलन, अजय कुमार, वरि. सेक्शन इंजी.(निर्माण) ने उनकी रचना ‘‘कोशिश करने वालों की हार नहीं होती‘‘ प्रस्तुत कर कभी भी निराश न होने की बात कही, प्रवीण सलूजा, कार्यालय अधीक्षक, वाणिज्य विभाग ने ‘‘नववर्ष हर्ष नव जीवन उत्कर्ष नव ’’ कविता का एवं मनोज कुमार पाटले, वरिष्ठ लिपिक ने ‘‘अग्निपथ‘‘ का पाठ किया, नवीन चंद्र बोदरा/वरिष्ठ लोको निरीक्षक ने उनके जीवनवृत्त पर प्रकाश डाला, मनोरंजन कुमार झा/लेखा सहायक ने उनके आत्मवृत्त एवं उनकी प्रसिद्ध कृति ‘‘मधुशाला‘‘ की समीक्षा की तथा वी. साईंशंकर/मुख्य विधि सहायक ने ‘‘राष्ट्रध्वज हरी, सफेद केसरी ’’ कविता का वाचन किया एवं कहा कि अंग्रेजी विषय में एम.ए. व लंदन से पीएचडी करने के बाद हिंदी में इतना बडा साहित्य सृजन करना सचमुच हमारे लिए प्रेरणास्पद है। इसी प्रकार लिंगराज राउत, वरिष्ठ कार्मिक अधिकारी ने ‘‘पथ की पहचान‘‘ कविता तथा दीपक शंखवार/राजभाषा अधिकारी ने उनके द्वारा रचित सिलसिला फिल्म का लोकप्रिय गीत ‘‘ रंग बरसे‘‘ सुनाकर सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया।

                              अंत में वरिष्ठ जनसम्पर्क अधिकारी, संतोष कुमार ने कहा कि मैंने इनकी अनेक पुस्तकों का अध्ययन किया है, जो पूरी तरह से एक जीवन दर्शन है तथा अनेक सस्वर गीतों को कई बार सुना है और हर बार उनमें नयापन झलकता है। इसके बाद धन्यवाद ज्ञापन के बाद कार्यक्रम समाप्ति की घोषणा की गई।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS