रोमांचक होगा छात्र संघ चुनाव–

election2015_jpegबिलासपुर—14 अगस्त को अधिसूचना के बाद छात्र संघ चुनाव में प्रत्याशियों का नाम खुलकर सामने आ जाएगा। जिले के विभिन्न पचास कालेजों में एबीव्हीपी और एनएसयूआई अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सचिव, सहसचिव पद के लिए किसकों उतारती है अभी फायनल कुछ नहीं हो सका है। शासन के आदेशानुसार छात्र संगठन चुनाव में किसी भी एक पद पर महिला का होना जरूरी है। महिला किस पद के लिए लड़ेगी इसका निर्णय संगठन को करना होगा। शहर के कुछ बीएड कालेजों में महाविद्यालय चुनाव नहीं होंगे। पीजीबीटी महाविद्यालय में मेरिट आधार पर छात्र नेताओं का चुनाव होगा। वह भी अगस्त महीने में।

                                               इस बार छात्र संघ चुनाव कुछ ज्यादा ही रोमांचक होने की उम्मीद है। कांग्रेस और भाजपा ने अपने विंग को खुलकर समर्थन करने का एलान किया है। पिछले एक महीने से कांग्रेस और भाजपा के युवा नेता अपने छात्र संगठन नेताओं से लगातार बैठक के जरिए संपर्क में बने हुए हैं। एबीव्हीपी और एनएसयूआई प्रत्याशियों का निर्णय भी मदर संगठन से तय होना निश्चित हो गया है।  भाजपा और कांग्रेस दोनों ही पार्टियां ने  प्रत्याशी तय होने से पहले ही कालेजों में अपनी ताकत झोंक दी है।

                            एनएसयूआई पदाधिकारी जिला अध्यक्ष तनमीत छाबड़ा, जिला महासचिव अरूण नाथानी, राष्ट्रीय सदस्य अजीत सिंह अमितेश राय लोकसभा अध्यक्ष बिलासपुर महेन्द्र गंगोत्री लगातार कालेज छात्रों से संपर्क करते हुए  योग्य प्रत्याशी के लिए रायशुमारी कर रहे हैं। साथ ही एनएसयूआई के पूर्व छात्र नेता और वर्तमान कांग्रेस के सदस्यों से व्यक्तिगत रूप से सलाह मशविरा कर रहे हैं। एनएसयूआई को विजय केशरवानी, स्वप्निल शुक्ला,सुनील शुक्ला,अकबर खान,बसंत गोरख, रविन्द्र सिंह, राघवेन्द्र सिंह,अभय नारायण राय,पीनाल उपवेजा,रामशरण यादव,राजेश पाण्डेय, गौरव दुबे,निक्कू भण्डारी, संतोष गर्ग, अरविंद बोलर, पंकज सिंह, आशीष गोयल का लगातार मार्गदर्शन भी मिल रहा हैं। इन सबके बीच जोगी महंत भूपेश समर्थकों का राग चुनाव के पहले ही दिखाई देने लगा है।

                 दूसरी ओर गुटीय राजनीति से दूर पिछली बार की सफलता को देखते हुए एबीव्हीपी अपनी  जीत को लेकर काफी आश्वस्त  है। जिला संयोजक ऋषभ चतुर्वेदी, जिला महामंत्री रौनक केशरी ,प्रदेश संयोजक अनिरूद्ध द्विवेदी, प्रदेश सह संयोजक सन्नी केशरी प्रत्याशी चयन को लेकर भाजपा नेताओं की सरपरस्ती में छात्र संगठन चुनाव में डंका बजाने का खाका तैयार कर लिया है।

         एबीव्हीपी को भारतीय जनता युवा मोर्चा के पदाधिकारियों और पूर्व छात्र नेताओं के अनुभवों का लाभ जमकर मिल रहा है। लगातार रणनीतियों पर चर्चा हो रही है। एबीव्हीपी के समर्थन में भाजपा नेता राकेश तिवारी, शैलेन्द्र यादव, राजेश तम्बोली, पंकज तिवारी, रत्तू मिश्रा, सुशांत शुक्ला, जलेश्वर सोनचे, विनोद चन्द्रा, अंकुश गुप्ता, किशन सोनी, अंकुश सिंह ठाकुर के अलावा अमर ग्रुप के सभी मंडल अध्यक्ष, भाजयुमों जोन प्रभारी शहरी एवं ग्रामीण नेताओं ने एक बार फिर कालेजों में भगवा झण्डा फहराने का बीड़ा उठाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *