मेरा बिलासपुर

लापरवाह तीन कर्मचारियों पर गिरी गाज

sambhagayukat shri boara dwara mahila ball vikash ki baithak (2)बिलासपुर—महिला एवं बाल विकास विभाग का आज संभाग स्तरीय समीक्षा बैठक सह कार्यशाला आयोजन किया गया। संभागायुक्त सोनमणि बोरा और विभाग की संचालक किरण कौशल की उपस्थिति में आयोजित बैठक में विभागीय योजनाओं की समीक्षा, कुपोषण दूर करने हेतु कार्ययोजना संभाग के प्रत्येक जिले में विभागीय अमलों द्वारा किये गये निरीक्षण तथा रेडी टू ईट की गुणवत्ता के सुधार हेतु कार्यवाही की समीक्षा की गई। समीक्षा के बाद लापरवाही और फील्ड में भ्रमण नहीं करने के कारण जांजगीर जिले के दो और बिलासपुर जिले की एक सुपरवाईजर को निलंबित कर दिया गया।

         पामगढ़ एवं मस्तूरी की परियोजना अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया।    बैठक में बोरा ने अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि जिस उद्देश्य को लेकर महिलाओं और बच्चों के लिए योजनाएं चलाई जा रही है। उन कार्यक्रमों को बेहतर ढंग से क्रियान्वयन करें। रेडी टू ईट आपूर्ति में कोई गड़बड़ी न हो तथा प्रयास यह हो कि एक सेक्टर में एक ही समूह को रेडी टू ईट आपूर्ति का कार्य मिले। उन्होंने योजना के बेहतर संचालन के लिए सघन मानिटरिंग और छापामार कार्यवाही करने पर जोर दिया। बोरा ने आंगनबाड़ी केन्द्रों में बच्चों की शतप्रतिशत उपस्थिति पर भी जोर दिया और इस संबंध में आ रही दिक्कतों को दूर करने की आवश्यकता बताई। आंगनबाड़ी केन्द्रों की भी सतत् निगरानी की बात कही। उन्होंने कहा कि ’’बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओं’’ योजना की शुरूआत संभाग में हो रही है। इस पर सभी जिला अधिकारी मेहनत करें तथा प्राथमिकता के साथ काम करें।

    बैठक में संचालक किरण कौशल ने बताया कि प्रदेश में कुपोषण में कमी लाने के लिए विभाग महत्वपूर्ण कार्य कर रहा है। उन्होंने बताया कि कुपोषण दूर करने हेतु चिन्हित नवाजतन योजना 4 अन्तर्गत लक्ष्य का निर्धारण और आगामी वर्ष 2016 तक मिलेनियम गोल का 25 प्रतिशत लक्ष्य प्राप्त करने हेतु कार्ययोजना तैयार करने के लिए यह बैठक आयोजित की गई है। जांजगीर जिले में गोल का 22 प्रतिशत लक्ष्य और बिलासपुर में 24.5 प्रतिशत लक्ष्य प्राप्त कर लिया गया है

पढिए सोशल मीडिया पर CM भूपेश ने लिखा भावुक पोस्ट,देर रात जागकर कर रहे है रेसक्यू ऑपरेशन की मॉनिटरिंग

         बैठक के दौरान संचालक ने बिलासपुर के विकासखण्ड मस्तूरी के आंगनबाड़ी केन्द्र पेण्ड्री में अनियमितता पाये जाने के कारण रिसदा की पर्यवेक्षक शशि प्रभा गुप्ता को निलंबित कर दिया। इसी तरह जिला जांजगीर-चांपा के परियोजना पामगढ़ अंतर्गत आंगनबाड़ी केन्द्र पामगढ़, आंगनबाड़ी केन्द्र राहौद एवं आंगनबाड़ी केन्द्र बारगांव तथा रेडी टू ईट उत्पादक समूह राहौद में अनियमितता में लापरवाही पाये जाने के कारण सेक्टर राहौद की पर्यवेक्षक सुशीला दुबे एवं सेक्टर पामगढ़ की पर्यवेक्षक मधुलिका को निलंबित कर दिया गया। वहीं परियोजना अधिकारी मस्तूरी सुधा राय बनर्जी एवं परियोजना अधिकारी पामगढ़ मीरा घाडगे को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS