लिपिक संघ का आंदोलन:ग्रेड पे की मांग को लेकर 1 सितंबर को CM के विधानसभा क्षेत्र राजनांदगांव में महारैली,7 से बेमुद्दत हड़ताल

बिलासपुर।छत्तीसगढ़ प्रदेश लिपिक वर्गीय शासकीय कर्मचारी संघ की प्रांतीय समीक्षा बैठक दुर्ग जिले मॆ सम्पन्न हुई। जिसमे पिछले पाँच चरणों के आंदोलन की समीक्षा उपरांत आंदोलन को विस्तार का निर्णय लिया गया। संघ के प्रदेश महामंत्री रोहित तिवारी ने बताया की लिपिको के ग्रेड पे सुधार हेतु शासन से लगातार संघ ध्यान आकर्षण किया। मंत्रालय का ऐतिहासिक घेराव एवं पाँच चरणों के आंदोलन के पश्चात मुख्यमंत्री ने लिपिक वेतनमान सुधार के लिय संघ को आश्वस्त किया था। समीक्षा बैठक मॆ निर्णय लििया।गया 31 अगस्त तक मुख्यमंत्री यदि लिपिक वेतनमान सुधार की घोषणा नही करते तो उनके निर्वाचन क्षेत्र राजनांदगांव मॆ 1सितम्बर प्रदेश भर के लिपिक महारैली के रुप मॆ वेतनमान सुधार की गुहार करने एकत्र होंगे। ओर ज्ञापन सौंपेंगे एवं एवं माँग पूर्ण ना होने की दशा मॆ 7 सितम्बर से प्रदेश भर के लिपिक कामकाज ठप्प कर अनिश्चित कालीन हड़ताल मॆ कूद जायेंगे।

रोहित तिवारी ने बताया की लिपिको का ग्रेड वेतन तृतीय श्रेणी के सभी वर्गों मॆ सबसे कम है सहायक ग्रेड तीन 1900 का 2400,वेतन करते हुए आगामी ग्रेड वेतन 2400का 2800एवं 2800का 4200 वेतनमान सुधार की मूल माँग शासन से की जा रही है।उन्होने बताया की मात्र 26 करोड़ रुपये सलाना व्यय भार मॆ प्रदेश के लीपीको की विसंगति दुर हो जायेगी।

बैठक मॆ सभी जिलों के साथियों की मंशा अनुरूप आंदोलन की घोषणा संघ के प्रांताध्यक्ष दादा चन्द्रिका सिंह ने की ओर उपस्थित सदस्यों ने ताली की ग़डग़डाहट से स्वागत किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *