लिपिक संघ नेता रोहित ने कहा…आश्वासन को पूरा करेगी नई सरकार…वेतन विसंगति को करेगी दूर

बिलासपुर— प्रदेश के लिपिक वर्ग कर्मचारियों ने नई सरकार का स्वागत किया है। साथ ही प्रदेश की नई सरकार से लिपिको की माँग प्राथमिकता से दूर करने को कहा है। लिपिक संंघ प्रदेश महामंत्री रोहित तिवारी ने बयान जारी कर बताया कि भाजपा सरकार ने लिपिकों से समझौता के बाद भी जायज मांगो को पूरी नहीं किया। जिससे लिपिकों में आज भी आक्रोश है। रोहित ने कहा कि उम्मीद ही नहीं पूरा विश्वास है कि नई सरकार लिपिकों की वेतन विसंगति मामलों को प्राथमिकता से लेते हुए दूर करेगी।

            लिपिक संघ नेता रोहित तिवारी ने बताया कि काँग्रेस की नयी सरकार से लिपिको को बड़ी उम्मीदें हैं। छत्तीसगढ़ प्रदेश लिपिक वर्गीय शासकीय कर्मचारी संघ प्रदेश महामंत्री रोहित तिवारी ने बयान जारी कर बताया की पिछली भाजपा सरकार ने लिपिको की जायज मांगो की अनदेखी की। प्रदेश के सभी लिपिक कर्मचारियों ने 26 दिनों का प्रदेश व्यापी आंदोलन किया। मुख्य सचिव के निर्देश पर सचिवों की समिति ने संघ को वार्ता के लिए भी बुलाा। मांगो पर समझौता कर जल्द ही लागू करने का आश्वासन दिया। लेकिन भाजपा के शीर्ष नेतृत्व  के इशारे पर समझौते का पालन नही किया गया।
                       रोहित ने प्रेस नोट जारी कर कहा कि वादा पूरा नहीं होेने से प्रदेश के लिपिको में गहरा आक्रोश है। नई सरकार के मुखिया से मिलकर एकबार फिर से मांंग को रखेंगे। लिपिको के वेतन विसंगति दूर करने की बातों को सामने रखेंगे। रोहित ने कहा कि प्रदेश के नए मुखिया भूपेश बघेल ने चुनाव पूर्व संघ के प्रतिनिधि मंडल को आश्वस्त दिया था कि काँग्रेस सरकार बनने पर लिपिको के वेतनमान में सुधार किया जाएगा। जायज मागों को प्रमुखता दी जाएगी। चूंकि नई सरकार बन चुकी है। प्रदेश के लिपिको को उम्मीद है कि लिपिको की मांगो का प्राथमिकता से निराकरण किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *