हमार छ्त्तीसगढ़

लॉकडाउन का पालन नही करने वालों पर अब होगी और सख़्ती,लोग अपने घरों की दहलीज नहीं लांघे-कलेक्टर गोयल

महासमुंद।जिले को कोरोना मुक्त करने के लिए ज़िला प्रशासन ने कमर कसली है ।जिले को कोरोना से मुक्ति दिलाने और जिले के 6 नगरीय सीमाक्षेत्र में लॉक डाउन का पालन नहीं करने वालों पर अब और अधिक सख्त कार्रवाई की जाएगी। ज़िला व पुलिस प्रशासन के साथ चिकित्सा विभाग का सहयोग करें। यह बात कलेक्टर श्री कार्तिकेया गोयल ने आज लोगों के नाम जारी अपील संदेश में कही ।उन्होंने कहा कि जो लोग गम्भीरता से लॉकडाउन का पालन नही कर रहे है ऐसे लोगों की सूचना महासमुंद पुलिस कंट्रोल रूम 07723-223135 पर दें । कलेक्टर गोयल ने कहा कि जिले को कोरोना से मुक्त कराने के लिए अब और सख्ती की जाएगी। लॉक डाउन का पालन नहीं करने वालों पर कार्रवाई तेज होगी । हमारी जिम्मेदारी जिले और यहाँ के आमजन के स्वास्थ्य एवं उन्हें सुरक्षित रखने की ज्यादा है।

लोगों की जरा सी लापरवाही या थोड़ी सी चूक जिले के लोगों के स्वास्थ्य को खतरे में डाल सकते है। उन्होंने कहा कि लोग पूर्व लॉकडाउन की तरह मेडिकल प्रोटोकॉल का पालन करें तथा बाहर से आने वाले लोगों की सूचना तुरंत पुलिस, प्रशासन व चिकित्सा विभाग को दें। लोग अपने घरों की दहलीज नहीं लांघे, आवश्यक होने पर घर से बाहर निकलने के दौरान मास्क का उपयोग करें, सोशल डिसटेंसिंग का पालन करें। बेहतर सामाजिक दायित्व निभाए ।

कलेक्टर कार्तिकेया गोयल ने कहा कि जिले को हमें पूरी तरह कोरोना मुक्त करना है। कुछ दिनो से कोरोना पॉजीटिव सामने आए है । कल 29 को 4 लोगों की कोरोना पॉज़िटिव रिपोर्ट आने के बाद जिले में केससंख्या 123 पहुँच गई थी । जिसमें कल एक व्यक्ति सहित 105 लोग पूरी तरह ठीक होकर अपने घर सुरक्षित पहुँच गए है । कल तक जिले में एक्टिव केस 17 बचे है । जिनका बेहतर इलाज जारी है। कलेक्टर ने लोगों से घरों में रहने, लॉक डाउन का पालन करने की पुनः अपील की है ।उन्होंने कहा है कि सीमाक्षेत्र में ख़ासकर लॉकडाउन वाले सीमाक्षेत्र में नजर रखी जारही है। सीमा पर तैनात पुलिस नाकों की लगातार पुलिस अधिकारियों द्वारा मॉनिटरिंग की जा रही है। उन्होंने कहा कि अब मास्क का उपयोग नहीं करने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। हर स्थिति से निपटने के लिए जिला प्रशासन पूरी तरह तैयार हैं।

आगजनी से पीड़ित परिवार को मिली 94 हजार की सरकारी मदद....... जागृति महिला मंडल की भूमिका सराहनीय

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS