लोया मौत मामला:राहुल का पलटवार,कहा-BJP के लोगों को भी शाह की हकीकत पता

Congress, Congress Leaders, Restaurant, Delhi, Fast, Rajghat, Atrocities On Dalits,नईदिल्ली।सुप्रीम कोर्ट की तरफ से सीबीआई जज बी एच लोया की मौत की एसआईटी जांच कराए जाने की याचिका खारिज होने के बाद हमलावर हुई बीजेपी (भारतीय जनता पार्टी) पर राहुल गांधी ने पलटवार किया है।राहुल ने ट्वीट कर कहा कि भारतीय बेहद समझदार होते हैं और जो लोग बीजेपी में हैं, उन्हें भी अमित शाह की हकीकत पता है।राहुल ने कहा, ‘भारतीय बेहद समझदार होते हैं। बीजेपी के लोग समेत अधिकांश भारतीय अमित शाह की सच्चाई जानते हैं। ऐसे लोगों को धर दबोचने का सच का अपना तरीका होता है।’गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट की तरफ से सीबीआई जज लोया की मौत के मामले की स्वतंत्र तरीके से जांच कराए जाने की याचिका खारिज होने के बाद आक्रामक बीजेपी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से माफी की मांग की थी।

कांग्रेस ने जहां इस मामले की स्वतंत्र जांच कराए जाने की मांग की है, वहीं बीजेपी ने राहुल गांधी से माफी मांगे जाने की अपील की है।सुप्रीम कोर्ट के फैसले को भारतीय इतिहास का काला दिन बताते हुए कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा, ‘कोर्ट का आदेश कई सवालों का जवाब नहीं देता है। पोस्ट मॉर्टम रिपोर्ट में कई सारी गड़बड़ियां हैं और उसमें पीड़ित का नाम भी सही तरीके से नहीं लिखा गया है।’

जबकि बीजेपी ने कोर्ट के आदेश का स्वागत करते हुए कांग्रेस पर निशाना साधा।कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि इस मामले को जनहित को पूरा करने के लिए नहीं बल्कि कांग्रेस के हितों को पूरा करने और बीजेपी के हितों को विशेषकर हमारे पार्टी प्रेसिडेंट अमित शाह को नुकसान पहुंचाने के लिए उठाया गया था।

कानून मंत्री ने बताया कि इस मामले में कोर्ट ने कहा था राजनीतिक लड़ाई राजनीतिक मैदान में लड़ी जानी चाहिए।उन्होंने कहा, ‘इसका मतलब साफ है कि इस मामले को हमारी पार्टी प्रेसिडेंट अमित शाह के खिलाफ राजनीतिक लड़ाई के तौर पर इस्तेमाल किया गया। मैं राहुल गांधी से अपील करता हूं कि वह अदालतों की मदद से राजनीतिक लड़ाई न लड़ें।’

पीएओ में राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा, ‘अगर आप न्यायपालिका की विश्वसनीयता पर सवला उठा रहे हैं, तो इसका मतलब है कि आप जांच और सभी सबूतों पर भी सवाल उठा रहे हैं। मुझे लगता है कि राहुल गांधी को अमित शाह से माफी मांगनी चाहिए।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *