मेरा बिलासपुर

लोहण्डीगुड़ाःप्राचार्य और शिक्षक पर गिरी गाज

sundarlalबिलासपुर– जगदलपुर कलेक्टर अमित कटारिया के निर्देश पर जिला पंचायत बस्तर के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने पंडित सुन्दर लाल शर्मा मुक्त विश्वविद्यालय के परीक्षा कार्य में लापरवाही करने के आरोप में उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय लोहण्डीगुड़ा के व्याख्याता और प्रभारी प्राचार्य हेमराव खापर्डे को निलबिंत कर दिया है। इसी तरह जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने लोहण्डीगुडा सहायक शिक्षक रमेश नागे को भी तत्काल प्रभाव निलंबित किया गया है।

                                  निलबंन की कार्यवाही पं.सुन्दरलाल शर्मा मुक्त विश्वविद्यालय बिलासपुर के कुलपति के पत्र को आधार मान की गयी है। पत्र में बताया गया है कि परीक्षा केन्द्र उच्चतर माध्यमिक विद्यालय लोहण्डीगुड़ा में 4 अगस्त 2015 को एम.ए. अंतिम अंग्रेजी में चौथे  प्रश्न पत्र के दौरान शांति कश्यप के स्थान पर अन्य महिला को परीक्षा देते हुए पाया गया। उस महिला ने एम.ए. अंतिम अंग्रेजी के तीन अन्य प्रश्न पत्रों में भी परीक्षा दिए जाने की शिकायत को जांच में सही पाया गया है । जांच में  हेमराव खापर्डे व्याख्याता पंचायत और प्रभारी प्राचार्य को छत्तीसगढ़ सिविल सेवा आचरण नियम 1965 के नियमों के तहत दोषी पाया गया।                        विश्वविद्यालय के इसी पत्र के आधार पर कलेक्टर के निर्देशानुसार जनपद पंचायत लोहण्ड़ीगुड़ा के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला लोहण्ड़ीगुड़ा के प्राचार्य हेमराव खापर्डे और सहायक शिक्षक पंचायत रमेश कुमार नागे को परीक्षा कार्य में की गई घोर लापरवाही बरतने पर तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। निलंबन अवधि में इन दोनों का मुख्यालय कार्यालय खण्ड शिक्षा अधिकारी लोहण्ड़ीगुड़ा रहेगा। यह भी उल्लेखनीय है कि विश्वविद्यालय से प्राप्त इस पत्र के आधार पर इस संबंध में जिले के पुलिस विभाग द्वारा भी कार्यवाही की जा रही है।

हजार करोड़ के घोटाले पर कांग्रेस ने कहा-भाजपा सरकार के घोटालों और भ्रष्टाचार के मोहरे थे अधिकारी
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS