वार्ड परिसीमन टीम का गठन…उइके को बिलासपुर, एसडीएम को तिफरा की जिम्मेदारी..कई वार्डों की मिटेगी पहचान

बिलासपुर— शासन के आदेश पर निकाय क्षेत्रों के वार्ड परिसीमन का कार्य चुनाव अचार संहिता से पहले पूरा कर लिया जाएगा। बिलासपुर निगम में नए क्षेत्र भी शामिल होंगे। वार्डों का परिसीमन जनसंख्या के आधार पर निर्धारित होगा। कई वार्डों का क्षेत्र क्रमांक भी बदल जाएंगे। शासन के निर्देश पर जिला प्रशासन ने निकायों में वार्ड परिसीमन के लिए अधिकारियों को जिम्मेदारी के साथ समय पर  परिसीमन रिपोर्ट देने को कहा है।

                                प्रदेश मुखिया के एलान के बाद बिलासपुर समेत निकाय क्षेत्रों के वार्डों का परिसीमन कार्य की प्रक्रिया शुरू हो गयी है। वार्डों का परिसीमन जनसंख्या के आधार पर किया जाएगा। बिलासपुर जिला प्रशासन ने शासन के आदेश पर परिसीमन कार्य के लिए अधिकारियों को नियुक्त कर दिया है। बिलासपुर नगर निगम परिसीमन की जिम्मेदारी एडिश्नल कलेक्टर बी.एस.उइके को दिया गया है। तिफरा नगर पालिका की जिम्मेदारी बिलासपुर एसडीएम किर्तिमान सिंह राठौर को दी गयी है। किर्तिमान के साथ तहसीलदार सिरगिट्टी तुलाराम भारद्वाज भी टीम में शामिल होंगे।

                          एसडीएम राठौर ने बताया कि नगरीय निकाय की न्यूनतम से अतिकतम वार्ड संख्या 40 से 70 तक हो सकती है। वार्ड परिसीमन का आधार जनसंख्या को बनाया गया है। बिलासपुर निगम की कुल जनसंख्या में वार्डों से मल्टीप्लाई कर नया वार्ड बनाया जाएगा। कमोबेश सभी वार्डों की जनसंख्या लगभग एक समान रहेगी।

                  परिसीमन के बाद कई वार्ड दुूसरे वार्ड का हिस्सा बन जाएंंगे। कई वार्ड नए वार्ड के रूप में सामने आएँगे। संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता कि वार्डों संख्या बढ़ सकती है। लेकिन निगम में अधिकतम वार्ड संख्या सत्तर से अधिक नहीं होगी।

जनसंख्या दस प्रतिशत ऊपर नीचे

एसडीएम राठौर ने वार्ड परिसीमन प्रक्रिया के बारे में बताया कि कुल संख्या में भाग देने के बाद जो भी परिणाम आएगा…उसी के अनुसार नए वार्डो का गठन और संख्या का निर्धारण होगा। वार्ड जनसंख्या दस प्रतिशत से कम या ज्यादा हो सकती है। लेकिन अधिकतम वार्ड संख्रया सत्तर से अधिक नहीं होगी। राठौर ने बताया कि परिसमीन के समय सभी पहलुओं पर ध्यान रखा जाएगा। पूरा प्रयास होगा कि सभी वार्डों की जनसंख्या कमोबेश समान ही रहें।

अब तक 66 वार्ड

बताते चलें कि बिलासपुर निगम क्षेत्र में कुल 66 वार्ड हैं। वार्ड क्र्मांक एक के पार्षद चन्द्रप्रोदीप वाजपेयी ने बताया कि यदि 29 गांवों को निगम क्षेत्र में शामिल किया गया तो वार्ड की संख्या सत्तर हो सकती है। नए क्षेत्रों के जुडने से निगम की जनसंख्या बढ़ेगी । इस बात से भी इंकार नही किया जा सकता कि वार्ड की संख्या यथावत रहे और जनसंख्याक्ष समेत एक वार्ड के क्षेत्र को दूसरे वार्ड में शिफ्ट कर दिया जाए।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...