विदा हुए अहिराज..साही का होगा स्वागत

IMG-20150711-WA0008IMG-20150711-WA0007बिलासपुर— एक्सचेंज योजना में दो जोडी नर और मादा घड़ियाल और एक जोड़ी साही को इन्दौर वन्यप्राणी संग्रहालय से कानन पेन्डारी लाया जाएगा।कानन प्रबंधन को इसके बदले इन्दौर वन्यप्राणी संग्रहालय दो जोड़ी लोमड़ी और तीन बैण्डेड करैत देगा। कानन की एक टीम योजना को अंजाम देने चार लोमड़ी और तीन अहिराज के साथ आज इन्दौर के लिए रवाना हो गयी है।

                                            इन्दौर वन्यप्राणी संग्रहालय कानन पेण्डारी को दो जोड़ी मादा और दो नर,तीन अहिराज के बदले दो जोड़ी मादा और नर घरियाल के साथ एक जोड़ी फर्कुयपाइन मतलब साही देगा। एक्सचेंज योजना के तहत आज कानन पेन्डारी की एक टीम इन्दौर के लिए चार लोमड़ी और तीन बैण्डेड करैत को लेकर रवाना हो गयी है। टीम में वन विभाग के अधिकारी डॉ.चन्दन त्रिपाठी और विश्वनाथ सिंह ठाकुर के साथ दो जू कीमर शामिल हैं।

                    कानन प्रशासन से मिली जानकारी के अनुसार टीम 14 जुलाई तक दो जोड़ी नर एवं मादा के अलावा एक जोड़ी पर्क्यूपाइन यानि साही को लेकर बिलासपुर पहुंच जाएंगे। इन्दौर से आने वाले मेहमानों की स्वागत तैयारी पूरी हो गयी है। कानन के रेन्जर टी..आर. जायसवाल ने बताया कि मिनी जू में वर्तमान में 15 लोमड़ी और 8 अहिराज सर्प हैं। जिसमें से 4 नर और मादा लोमड़ी और तीन अहिराज सर्प इन्दौर भेज दिया गया है। जायसवाल के अनुसार कानन पेण्डारी में नर साही की जरूरत थी। यहां एक मात्र नर साही है जिसके कारण मादा साही की जरूरत थी।

कानन में बढ़ेगे जीव

           कानन में जीवों की बेहतर सुरक्षा की जा रही है। नए मेहमान के स्वागत की तैयारी भी हो गयी है। 14 जुलाई तक घड़ियाल और साही बिलासपुर पहंच जाएंगे। अभी एक्सचेंज योजना के तहत जूनागढ़ से भी जीवों का आना है। साथ ही ही कानन को मिनी जू से निकालकर मध्यम जू का दर्जा दिलाना है।

                                                                         सत्यप्रकाश मसीह…वन मण्डलाधिकारी…बिलासपुर

साही की थी जरूरत

   कानन पेण्डारी में एक मात्र नर साही है। मादा साही की जरूरत थी। जिसे इन्दौर से लाया जा रहा है। कानन प्रशासन उनके स्वागत को तैयार है। आगे भी नए जीवों के स्वागत में कानन तैयार है।

                                                                          टी.आर.जायसवाल…रेंजर…कानन पेण्डारी बिलासपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published.