मेरा बिलासपुर

विदेशी संस्थापक पार्टी की विदेशी सोच– प्रेम प्रकाश

IMG_20150925_152132बिलासपुर— सुन्दर लाल शर्मा विश्वविद्यालय में आयोजित मानस में विज्ञान कार्यशाला में शामिल होने से पहले उच्च शिक्षा मंत्री प्रेम प्रकाश पाण्डेय छत्तीसगढ़ भवन में पत्रकारों से रूबरू हुए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का संस्थापक अंग्रेज है इसलिए कांग्रेसियों की राजनीति भी कुछ अंग्रेजों की ही तरह है। पाण्डेय ने कहा कि आखिर कब तक गांधी के नाम पर कांग्रेस राजनीति करेंगी। महात्मा गांधी देश के धरोहर हैं कांग्रेस के बंधक नहीं।

                     बिलासपुर एक दिन प्रवास पर पहुंचे उच्च शिक्षा मंत्री ने आज पत्रकारों से रूबरू होते हुए कांग्रेस पार्टी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि दीनदयाल उपाध्याय और महात्मा गांधी एक सिक्के के दो पहलू हैं। एक ने एकात्म मानववाद का दर्शन दिया तो दूसरेने  ट्रस्टी का सिद्धान्त सामने लाया। दोनों ही महापुरूष हैं। पाण्डेय ने कहा कि कांग्रेसी आखिर कब तक गांधी जी के नाम पर राजनीति करेगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेसी बार-बार नाम लेकर उनके नाम को  अपवित्र कर रहे हैं।  महात्मा गांधी देश के धरोहर हैं। कांग्रेस के बंधक नहीं।

                         पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए पाण्डेय ने कहा कि कांग्रेस का संस्थापक एक विदेशी है। इसलिए कांग्रेसियों की सोच भी विदेशी ही है। भारत के लोग विदेशियों की राजनीति को पसंद नहीं करते हैं। गांधी की दुहाई देने वालों ने हमेशा गांधी के विरोध में ही काम किया है। देश की जनता सब समझ चुकी है। पाण्डेय ने बताया कि सफाई अभियान में दीनदयाल उपाध्याय पखवाड़ा मनाने का अर्थ यह नहीं की हम महात्मा गांधी को कम आंक रहे हैं। यदि कांग्रेसी ऐसा सोचते हैं तो उनकी मानसिक स्थिति कैसी होगी समझ सकते हैं।

भजिया पकौड़ा प्रेमी सावधान...थाली में बेसन का जहरीला पकवान तो नहीं?

                     पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए प्रेंम प्रकाश पाण्डेय ने कहा कि परीक्षा में शांति बैठी थीं या क्रांति इसमें मंत्री का नाम कहीं नहीं है। पुलिस छानबीन कर रही है। जिसकी गवाही होगी वह देने जाएगा। इसमें सरकार की भूमिका का सवाल ही नहीं उठता है। विश्वविद्यालय ने जांच के लिए प्रकरण को पुलिस के पास भेजा है। परिणाम भी आ जाएगा।

                   एक प्रश्न के जवाब में पाण्डेय ने कहा कि बिलासपुर अध्यक्ष चुनाव में विवाद की स्थिति में पुनर्गणना का मामला सामने आया था। विवाद का मुख्य वजह छात्र संघ चुनाव में रिकाउन्टिंग का स्पष्ट नहीं होना है। कुलपति ने विवेकाधिकार का प्रयोग कर रिकाउन्टिग का आदेश दिया था। अब प्रयास किया जाएगा कि ऐसे मामले सामने नहीं आए। उसके लिए आवश्यक नियम बनाने का प्रयास किया जाएगा।

                     लिंगियाडीह जमीन विवाद मामले में राजस्व मंत्री ने कहा कि अभियान नहीं रूकेगा। बल्कि जल्द ही अभियान को तेज किया जाएगा। उन्होंने इस मौके पर बिल्हा एसडीएम से भी बातचीत की। प्रेम प्रकाश पाण्डेय ने कहा कि कालेजों में प्राध्यापकों की कमी को दूर किया जाएगा। आठ सौ अधिक पदों की भर्ती शीघ्र की जाएगी।

                   एक सावाल के जवाब में पाण्डेय ने कहा कि आठ सौ से अधिक गांवों का सीमांकन और पहचान किया जा रहा है। कुछ गांव ऐसे हैं जिनका राजस्व रिकार्ड भी नहीं है। उनको नयी पहचान देने की कवायद चल रही है। इस मौके पर उच्च शिक्षा मंत्री के साथ पूर्व विधायक मस्तूरी डॉ.कृष्ण मूर्ति बांधी समेत कई छात्र नेता भी उपस्थित थे। पाण्डेय ने बताया कि सुन्दर लाल शर्मा विश्वविद्यालय कार्यशाला के बाद वे मुंगेली में भाजपा के महासम्पर्क अभियान में भी शिरकत करेंगे।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS