मेरा बिलासपुर

विधानसभा परिसर में आंबेडकर प्रतीमा की मांग

CG-VIDHAN-SABHA.previewरायपुर—पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने छत्तीसगढ विधानसभा परिसर में  भारत रत्न डॉ बाबा साहेब आंबेडकर प्रतीमा स्थापित करने की मांग की है। जोगी ने प्रेस नोट जारी कर कहा है कि जिस तरह संसद में राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी और संविधान निर्माता डॉ आंबेडकर की प्रतीमा लगायी गयी है। उसी तरह छत्तीसगढ़ विधानसभा में भी दोनों महापुरषों को सर्वोच्च सम्मान और स्थान दिया जाना चाहिए।

                             अजीत जोगी ने कहा है कि गाँधी प्रतीमा तो छत्तीसगढ़ विधानसभा परिसर में पहले से ही है। इसी तरह छत्तीसगढ़ विधानसभा परिसर में बाबा साहब की प्रतीमा भी लगाई जाए। महात्मा गाँधी और बाबा साहेब दोनों ही भारतीय इतिहास के युगपुरुष हैं। पूरा भारतवर्ष दोनों महापुरूषओं को  स्वतंत्रता और समानता के प्रतीक के रूप में पूजता है।

      जोगी ने कहा कि जहाँ तक छत्तीसगढ़ का प्रश्न है…राज्य के  अधिकाँश गाँवों के चौराहों पर बाबा साहेब की प्रतीमा होना साबित करता है कि आम लोगों की भावनाएं बाबा साहेब से गहराई से जुडी हुई है। छत्तीसगढ़ विधानसभा परिसर में सरकार डॉ श्यामा प्रसाद मुख़र्जी और स्वामी विवेकानंद की प्रतीमा लगाये जाने पर किसी प्रकार की आपत्ति नहीं है। लेकिन बाबा साहेब की प्रतीमा भी विधानसभा परिसर में लगाई जाए।

                             जोगी ने कहा कि छत्तीसगढ़ ही नहीं बल्कि भारत के सभी राज्यों की विधानसभाओं में बाबा साहेब की प्रतीमा प्रमुखता से स्थापित की जानी चाहिए। जिस व्यक्ति ने भारत देश के आम नागरिक को संविधान का कवच दिया। ऐसे महान व्यक्ति का स्थान लोकतंत्र के मंदिर में होना ही चाहिए।

धूमधाम से मनाया जाएगा "70 याद करो कुर्बानी"
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS