विवि में पाँच दिन की कार्यशाला शुरू

ggdu 04

बिलासपुर। गुरु घासीदास केंद्रीय विश्वविद्यालय के पुस्तकालय एवं सूचना विज्ञान विभाग एवं मानव संसाधन विकास केंद्र, गुरु घासादीस विश्वविद्यालय के सहयोग से पुस्तकालय में उपयोग हेतु विभिन्न ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर विषय पर पांच दिवसीय राष्ट्रीय कार्यशाला शुरू हुई।

विश्वविद्यालय के मानव संसाधन विकास केंद्र में आयोजित हुए उद्घाटन समारोह में मुख्य वक्ता के रूप में पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय, रायपुर के पुस्तकालाध्यक्ष डॉ. सुपर्णा सेनगुप्ता ने पुस्तकालय में उपयोग हेतु विभिन्न ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर पर अपनी बात रखी। कार्यक्रम की अध्यक्षता विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर एसपी सिंह ने की।

कार्यशाला के उद्घाटन अवसर पर मुख्य वक्ता डॉ. सुपर्णा सेनगुप्ता, पुस्तकालाध्यक्ष, पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय  ने कहा कि विश्वविद्यालय में अपने गुरु के आगे मुख्य वक्ता के रूप में बोलते हुए उन्हें गौरान्वित महसूस कर रहे है। डॉ. सेनगुप्ता ने पुस्तकालय में उपयोग हेतु विभिन्न ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर, उनके उपयोग एवं कार्यप्रणाली के बारे में चर्चा करते हुए वर्तमान युग में डिजीटल लाइब्रेरी की प्रासंगिक बताया।

अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में कुलपति प्रोफेसर एसपी सिंह ने कहा कि विश्वविद्यालय लगातार प्रगति पथ में पर अग्रसर है और नित नई ऊंचाइयों को छू रहा है। कुलपति प्रोफेसर सिंह ने कहा कि पुस्तकालय एवं सूचना विभाग नई ऊर्जा से कार्य कर रहा है जो निश्चित ही सकारात्मक संकेत है। प्रोफेसर सिंह ने कार्यशाला की सफलता के लिए शुभकामनाएं दीं। इस अवसर पर अधिष्ठाता छात्र कल्याण प्रोफेसर एसवीएस चौहान ने भी अपने विचार व्यक्त करते हुए कार्यशाला की सफलता की कामना की।

कार्यशाला की विषयवस्तु पर विभाग के वरिष्ठ शिक्षक एवं राष्ट्रीय कार्यशाला के समन्वयक डॉ. ब्रजेश तिवारी ने पांच दिवसीय कार्यशाला में आयोजित होने वाली विभिन्न गतिविधियों एवं प्रशिक्षण कार्यक्रम की विस्तृत जानकारी मुहैया कराई साथ ही उन्होंने इस अवसर पर सभी का स्वागत किया।

इसके पश्चात प्रथम तकनीकी सत्र में कंप्यूटर एवं सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के विभागाध्यक्ष प्रोफेसर अमित सक्सेना ने पुस्तकालय में उपयोग हेतु विभिन्न ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर विषय पर वक्तव्य दिया।

द्वितीय तकनीकी सत्र में सह-आचार्य एवं विभागाध्यक्ष पुस्ताकालय एवं सूचना विज्ञान विभाग डॉ. भास्कर मुखर्जी ने ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर के उपयोग एवं जमोला ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर के इंस्टॉलेशन एवं कार्यों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। राष्ट्रीय कार्यशाला में 45 से ज्यादा प्रतिभागी हिस्सा ले रहे हैं।

कार्यक्रम में धन्यवाद ज्ञापन श्री रत्नेश सिंह, डिप्टी डायरेक्टर, मानव संसाधन विकास ने किया। कार्यक्रम का संचालय सुनील कुमार गौतम ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.