वीसी के योगदान को कांग्रेसियों ने किया याद

Editor
4 Min Read

IMG_20160612_112031(1)बिलासपुर— कांग्रेस कमेटी बिलासपुर ने आज पूर्व केन्द्रीय मंत्री विद्याचरण शुक्ल को पुण्य तिथि पर याद किया। श्रद्धा सुमन भेंट कर सभी कांग्रेसियों ने उनके जीवन पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम अध्यक्षता शहर अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर ने की। 25 मई को नक्सली हमले में वीसी शुक्ला गंभीर रूप से घायल हो गए थे। 11 जून को इलाज के दौरान शुक्ला ने दिल्ली में अंतिम सांस ली थी।

Join Our WhatsApp Group Join Now

                     शहर अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर ने वीसी शुक्ला को याद करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ के विकास में शुक्ला जी को हमेशा अग्रिम पंक्तियों में याद किया जाएगा। कार्यक्रम संयोजक जफर अली वीसी के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि लगातार उतार चढ़ाव के बाद भी अपने राजनीतिक जीवन में हमेशा आम कार्यकर्ताओं के साथ कदम से कदम मिलाकर चला। जीवन के अंतिम समय तक छत्तीसगढ़ की खुशहाली के लिए संघर्ष करते रहे। चंद्रप्रकाश देवरस, मानव ओत्तलवार, अनिल शुक्ला ने भी वीसी जीवन पर प्रकाश डाला। उनके कट्टर समर्थन रहे फिरोज कुरैशी ने बताया कि वीसी हिन्दुस्तान की राजनीति में बहुत बड़ा नाम था। स्व. विद्याचरण के कारण रायपुर और बिलासपुर का पहचान देश में हुई। शिवा मिश्रा, अभय नारायण राय ने भी शुक्ला के राजनीतिक जीवन पर अपने विचार रखे।

                       जिला कांग्रेस ग्रामीण के अध्यक्ष राजेन्द्र शुक्ला ने स्व. विद्याचरण को हिन्दुस्तान की राजनीति का चाणक्य कहा। विपरित परिस्थितियों में भी राजनीति में बने रहना उनकी विशेषता रही। 25 मई 2013 को कांग्रेस के परिवर्तन यात्रा में शामिल होकर उन्होने जीवटता का परिचय दिया। झीरम में नक्सली हमले में घायल होने के बाद भी धैर्य बनाये रखा। अपने साथ के लोगो को ढांढस बंधाते रहे। 11 जून को उनके मृत्यु हुई। कांग्रेस उनकी पुण्यतिथि को शहादत दिवस के रूप याद करता है।

                       प्रदेश महामंत्री अटल श्रीवास्तव ने बताया कि वीसी ने देश में छ.ग. के पहचान थे। छत्तीसगढ़ राज्य गठन में उनका महत्वपूर्ण योगदान है। कृषि और सिचाई को लेकर उन्होने अनेकों योजनाएं केन्द्र से प्रदेश को सौगात में दी। भुवनेश्वर यादव ने श्रद्धांजलि देते हुए उनके और परिवार के राष्ट्रीय राजनीति में दिये गए योगदान को याद किया।

                  कार्यक्रम में पूर्व महापौर राजेश पाण्डेय, महामंत्री मनोज शर्मा, कार्यालय सचिव सुभाष ठाकुर, ठाकुर  बरम सिंह, पं. विनोद शर्मा, त्रिभुवन लाल कश्यप, मनीष गुप्ता, हरमेन्द्र शुक्ला, मोहन बोले, करम गोरख, जयकिशन साहू, मनोज शुक्ला, राजेन्द्र ओझा, विष्णु कौसल, कामता यादव, मनोज शुक्ला  उपस्थित थे।

शिव डहरिया के प्रति संवेदना

पूर्व विधायक शिव डहरिया के माता-पिता पर जानलेवा हमला सरकार की नाकामी है। भाजपा सरकार बुजुर्गों को सुरक्षा देने नाकाम साबित हुई है। कांग्रेस भवन में कांग्रेसी नेताओं ने कहा कि पूर्व विधायक शिव डहरिया के माता-पिता के उपर किये गये प्राणघातक हमले की पार्टी निन्दा करती है।

                      पूर्व विधायक शिव डहरिया के माता पिता पर जानलेवा हमले की कांग्रेस नेताओं ने गंभीरता से लिया है। कांग्रेस नेताओं ने बताया कि पूर्व विधायक की माता गायत्री देवी मौत हो गयी। पिता जीवन और मौत के बीच संघर्ष कर रहे हैं। उपस्थित कांग्रेस जनों ने दो मिनट का मौन रखकर गायत्री देवी को श्रद्धांजली अर्पित की। जानलेवा हमले में घायल शिव डहरिया के पिता आशाराम के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना कांग्रेसियों ने की।ई है।

close