हमार छ्त्तीसगढ़

व्यक्तिवादी राजनीति पर अटल निशाना…संपत्तिकर का विरोध

रायपुर—आज कांग्रेस कार्यालय में प्रदेश स्तरीय कांग्रेस कार्यकर्ताओं की बैठक हुई। बैठक में  जिला शहर और ग्रामीण अध्यक्षों समेत प्रदेश महामंत्रियों और सचिवों ने खुलकर अपने विचारों को रखा। इस  दौरान प्रदेश के सभी कांग्रेस पIMG-20150928-WA0032दाधिकारियों ने अपनी भड़ास जाहिर की। साथ ही सभी ने कुछ ना कुछ सुझाव भी दिया। साथ ही शिकायतों को भी प्रदेश अध्यक्ष के सामने रखा।

               रायपुर स्थित रविशंकर शुक्ल कांग्रेस कार्यालय में आज प्रदेश स्तरीय कांग्रेस पदाधिकारियों का बैठक हुई। कार्यक्रम को सर्वप्रथम भूपेश बघेल ने संबोधित किया। उन्होंने कहा कि आउटसोर्सिंग मुद्दे को हमने पहले से सदन और हाईकमान के सामने रखा है। इस पर विचार विमर्श के साथ आंकड़े भी प्रस्तुत किये गए हैं। इस पर संगठन अपना काम कर रहा है। कोई संगठन से बड़ा नहीं है। संगठन ही तय करेगा कि किस मसले को किस तरह किस मंच पर उठाना है। इस दौरान पीसीसी अध्यक्ष ने एकला चलों की नीति का विरोध करते हुए कहा कि कांग्रेस की ऐसी गतिविधियों पर नजर है।

                           कार्यक्रम को बिलासपुर जिला ग्रामीण कांग्रेस अध्यक्ष राजेन्द्र शुक्ला ने संबोधित करते हुए कहा कि सूखे की स्थिति से जिले किसान परेशान है। प्रशासनिक स्तर पर गरीबों के लिए सरकारी राहत का दरवाजा नहीं खुला है। सरकार की तानाशाही से प्रशासनिक अधिकारी बेलगाम हो चुके हैं। एक सामान्य इंसान का जीना हराम हो गया है। इस मौके पर राजेन्द्र शुक्ला ने इशारे ही इशारों में गुटबाजी को कांग्रेस की एकता में सबसे बड़ा रोग बताया।

                  जिला पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कांग्रेस प्रदेश महामंत्री अटल श्रीवास्तव ने निगम संपत्तिकर, पोस्टमैट्रिक छात्रावास पर पुलिस कार्रवाई और आउटसोर्सिंग के मुद्दे को उठाया। अटल श्रीवास्तव ने कहा कि बिलासपुर नगर निगम की हालत बद से बदतर हो चुकी है। सत्ता पक्ष साल 97 से  संपत्तिकर नहीं लगाये जाने का दावा कर रहा है। वास्तविकता तो यह है बिलासपुर की जनता अपरोक्ष रूप से नगर निगम से आरोपित कर के बोझ से कराह रहा है।

देखे VIDEOःशिक्षाकर्मी मुद्दे पर मध्यप्रदेश/छत्तीसगढ़ की साझा मुहिम पर कैसे बन रही सहमति?

                        उन्होने बताया कि निगम की हालत काफी दयनीय है। सरकार का दावा है कि बिलासपुर को वैश्विक रूप देंगे। सब जानते हैं कि यह सब सिर्फ बातें हैं..और..बातों के अलावा कुछ नहीं। उन्होंने कहा कि पोस्टमैट्रिक छात्रावास में पिछले दिनों जो कुछ हुआ हुआ उससे मानवता और नैतिकता शर्मसार हुई है। बेलगाम शासन ने छात्राओं पर ना केवल लाठीचार्ज किया बल्कि उन्हें थाने में भी बंद रखा। आदिवासी और दलित समाज का जीना मुश्किल हो गया है। हमे इन सब विषयों को लेकर…एकता के साथ गरीबों के समर्थन में आना होगा। हम आए भी। लेकिन बहुत अच्छा परिणाम सामने नहीं आया। इस पर चिंतन की जरूरत है। आखिर ऐसा क्यों हुआ…

                 अटल श्रीवास्तव ने आउटसोर्सिंग मुद्दे को उठाते हुए कहा कि एकला चलों की नीति से ना तो कांग्रेस को फायदा होगा और ना ही युवाओं को। जिसे फायदा होगा उससे प्रदेश का बहुत ज्यादा भला नहीं होने वाला। उन्होंने कहा यदि परिणाम चाहिए तो सबको एक होकर चलना होगा। व्यक्तिवादी सोच से बाहर निकलकर काम करना होगा। गुटबाजी ने कांग्रेस को बहुत नुकसान पहुंचाया है। हमें संगठन के गुट में काम करने की जरूरत है। अन्यथा जनता हमें माफ नहीं करेगी।

                 संभागीय प्रवक्ता अभय ने बताया कि सरकार ने निगम प्रशासन को पचास प्रतिशत सम्पत्तिकर वृद्धि लागू करने का आदेश जारी कर दिया है। अभी तक बिलासपुर में इस बात की जानकारी किसी को नहीं है। आखिर क्यों इस मुद्दे को बैठक के दौरान गंभीरता के साथ रखा गया है। राय ने बताया कि सरकार ने दावा आपत्ती के लिए एक अक्टूबर का समय दिया है। लेकिन आम जनता को इसकी कोई जानकारी नहीं है।प्रदेश समिति ने निर्णय लिया है कि कांग्रेस कार्यकर्ता मंगलवार से वार्डों में जाकर लोगों को पचास प्रतिशत सम्पत्तिकर वृद्धि की जानकारी देगी।

नए CM ने CS को सौंपी जन घोषणा पत्र की कॉपी,अफसरों को दिए क्रियान्वयन के निर्देश

                          प्रदेश समिति की बैठक को संबोधित करते हुए भूपेश बघेल ने आउटसोर्सिंग मुद्दे की जिम्मेदारी एनएसयूआई को सौंपा  है। उन्होने कहा कि एनएसयूआई प्रदेश के युवाओं को जागरूक करते हुए सरकार की नीतियों की परिचित करायेगा। जरूरत पड़ने पर आंदोलन भी करेगा। कांग्रेस संगठन यूथ विंग का हर कदम पर समर्थन करेगा।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS