शिक्षकों को हो रहा भारी नुकसान, जिला पंचायत ने वापस किया समय मान का प्रस्ताव, टीचर्स एसोसिएशन ने जताई आपत्ति

जांजगीर-चाम्पा।छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन जिला जांजगीर चाम्पा, व शैक्षणिक जिला सक्ती के नेतृत्व में जिला पंचायत सीईओ तीर्थराज अग्रवाल से मुलाकत कर ज्ञापन सौंपकर विभिन्न मांगों का ज्ञापन सौंपा।जिसमें समयमान व समतुल्य का आदेश जारी करने की मांग करते हुए प्रतिनिधि मंडल ने जिला सीईओ को बताया कि पिछले 03 माह से समयमान वेतनमान का आदेश जिला पंचायत से जारी नही किया गया है, विभागीय छान बिन समिति का गठन तो किया गया है पर सभी ब्लाक से प्रस्ताव प्राप्त होने के बाद भी समयमान वेतनमान का आदेश जारी नही किया गया है, जिससे आर्थिक नुकसान का सामना शिक्षक पंचायत संवर्ग को करना पड़ रहा है।सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

साथ ही समतुल्य वेतनमान का भी प्रस्ताव ब्लाक से प्राप्त होने के बाद भी सभी पंचायत शिक्षक संवर्ग का आदेश जारी नही किया जा रहा है।शीघ्र ही लंबित समयमान व समतुल्य का आदेश जारी किया जावे – उपरोक्त ज्ञापन देने पर सीईओ साहब ने कहा कि ब्लाक से प्राप्त प्रस्ताव में कमियां होने के कारण प्रस्ताव को वापस कर संपूर्ण जानकारी सहित प्रस्ताव प्रस्तुत करने को सभी बीईओ को कहा गया है,

जिला सीईओ साहब ने टीचर्स एसोसिएशन के प्रतिनिधि मंडल से कहा कि आप लोग भी ब्लाक से प्रस्ताव भेजवाने पहल करें।छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन ने सभी बीईओ से मांग की है कि वे सीघ्र ही संपूर्ण दस्तावेज के साथ प्रस्ताव जिला पंचायत में प्रस्तुत करें।

जिला पंचायत द्वारा पत्र क्रमांक 8409 11 अक्टूबर 2019 को जारी पत्र में सर्विस सर्विस बुक का प्रथम पृष्ठ की प्रमाणित प्रति, व्यवसायिक एवं शैक्षणिक योग्यता मार्कशीट की छाया प्रति, स्वप्रमाणित प्रति हायर सेकेंडरी, स्नातक, स्नातकोत्तर, B.Ed / D.Ed अध्ययन शासकीय सेवा अवधि में किया गया तो नियुक्ति अधिकारी की अनुमति की छाया प्रति, सर्विस बुक में उच्चतर योग्यता उत्तीर्ण करने का एंट्री का फोटो कॉपी प्रमाणित प्रति, 5 वर्ष का सी आर का मूल प्रति सहित आवश्यक दस्तावेज के साथ प्रस्तुत करने का निर्देश सभी बीईओ को दिया गया है, परन्तु बीईओ कार्यलयों से उपरोक्त प्रस्ताव जमा नही किये जाने पर टीचर्स एसोसिएशन ने नाराजगी ब्यक्त करते हुए समय सीमा में प्रस्ताव जमा नही करने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों के प्रति जवाबदारी तय करते हुए कार्यवाही करने की मांग की है।

समतुल्य वेतन मान के प्रस्ताव जिला पंचायत में प्रस्तुत होने के बाद भी स्वीकृत नही करने पर एसोसिएशन ने सीईओ साहब को अवगत कराते हुए शिक्षा शाखा को निर्देशित करने की मांग की।

लंबित सीपीएस को जमा करवाने की मांग –जैजैपुर में सीपीएस की सर्वाधिक समस्या से अवगत कराते हुए सीईओ  को अवगत कराया गया कि पूर्व में जिला पंचायत से जांच कराने के बाद भी 4 करोड़ 50 लाख की राशि शिक्षक पंचायत संवर्ग के खाते में जमा नही किया गया है जिसमे वर्तमान में शिक्षक पंचायत संवर्ग व संविलियन हो चुके शिक्षकों को नुकसान हुआ है।

बलौदा व बम्हनीडीह में भी सीपीएस का मामला लम्बित होने की जानकारी सीईओ साहब को दी गई तथा जैजैपुर, बलौदा , बम्हनीडीह सहित पूरे जिले की पूरी जानकारी सहित परामर्शदात्री समिति की बैठक आयोजित करने की मांग की गई, जिस पर जिला सीईओ साहब ने दीपावली पश्चात परामर्शदात्री समिति की बैठक आयोजित करने का आस्वासन दिया।

बम्हनीडीह ब्लाक के शिक्षक पंचायत संवर्ग के वेतन के लिए जारी आबंटन में हेड परिवर्तन करने की मांग–बम्हनीडीह ब्लाक के शिक्षक पंचायत संवर्ग के शिक्षा विभाग के वेतन के लिए आबंटन जिला पंचायत जांजगीर चाम्पा से जारी हुआ है जिसमे सितम्बर माह का वेतन भुगतान के लिए 196 हेड का बिल 25 लाख 48 हजार 18 रुपए का है जबकि जनपद बम्हनीडीह में बैलेंस 196 हेड में 2 लाख 39 हजार 466 रुपए है।

जबकि 197 हेड में बैलेंस 35, लाख 32 हजार 571 है,जबकि बिल है 197 हेड में 2 लाख 29 हजार 792 रुपए है।

अतः सितम्बर माह के वेतन भुगतान के लिए 196 हेड में 23 लाख 10 हजार आबंटन की आवश्यकता है जबकि 197 हेड में पर्याप्त आबंटन है,अतः 197 हेड के अतिरिक्त आबंटन को 196 हेड में परिवर्तित करने हेतु आवश्यक पहल करने की मांग की गयीताकि शीघ्र ही वेतन भुगतान सुनिश्चित हो सके।

इस विषय पर शिक्षा शाखा द्वारा जिला पंचायत सीईओ साहब के सामने ट्रेजरी से लॉक होने का पक्ष रखा गया जिस पर संघ ने कड़ी आपत्ति दर्ज करते हुए कहा कि ट्रेजरी में लॉक होने व हेड में अंतर दोनों अलग अलग विषय है जिस पर जिला सीईओ साहब द्वारा छान बिन करने से स्पस्ट हुआ कि मामला लॉक होने का नही है बल्कि जिला पंचायत द्वारा जारी आबंटन व ट्रेजरी में एंट्री किये जाने में हेड में परिवर्तन होने के कारण सितम्बर माह का वेतन भुगतान नही हो पा रहा है।

संघ ने सीईओ से पहल करते हुए सीघ्र वेतन भुगतान सुनिश्चित करवाने की मांग की है, सीईओ साहब ने संघ को आश्वस्त किया।

बलौदा ब्लाक में संविलियन हों चुके शिक्षकों का सेवापुस्तिका जनपद से अभी तक वर्तमान डीडीओ बीईओ के पास नही भेजे जाने की जानकारी देते हुए जनपद सीईओ को निर्देशित करने की मांग की गई, जिस पर जिला सीईओ साहब ने तत्काल फोन करके निर्देशित किया।

डभरा ब्लाक के 02 शिक्षा कर्मियों द्वारा समयमान वेतन नही लेने का आवेदन दिया गया है तो उनका समतुल्य वेतनमान स्वीकृत करने की मांग सीईओ साहब से की गई है। जिस पर सीईओ साहब ने शिक्षा शाखा को नोटसीट प्रस्तुत करने को कहा है।

प्रतिनिधि मंडल में प्रदेश उपाध्यक्ष बसंत चतुर्वेदी, जिलाध्यक्ष जांजगीर चांपा सत्येन्द्र सिंह,जिलाध्यक्ष सक्ती बी एस बनाफर,जिला सचिव बोधी राम साहू,जिला उपाध्यक्ष प्यारेलाल साहू,जिला संयोजक विजय प्रधान,जिला उपाध्यक्ष राजकिशोर धिरही, जिला पर्यवेक्षक मनीष शर्मा, ब्लॉक अध्यक्ष बलौदा नरेश गुरुद्वान,डभरा ब्लाक अध्यक्ष इन्द्र कुमार पटेल,जैजैपुर ब्लाक अध्यक्ष लोचन चंद्रा,सक्ति जिला महासचिव फिरत कपुर,सक्ति जिला पर्यवेक्षक चेतन पटेल, जिला प्रचार सचिव संजय राठौर, सहित पदाधिकारी सामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *