शिक्षाकर्मियों की दिक्कतें दूर अब नई शुरुआत..विकास राजपूत बोले- वेतन विसंगति का भी जल्द हो समाधान

बिलासपुर।दो वर्ष पूर्ण कर चुके शिक्षाकर्मियों के जुलाई 2020 में संविलियन के निर्णय लेने के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल व पूरे मन्त्रिमण्डल को नवीन शिक्षक संघ छत्तीसगढ़ के तरफ से कोटि-कोटि साधुवाद है,नवीन शिक्षक संघ छत्तीसगढ़ के प्रदेश अध्यक्ष विकास राजपूत ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि वास्तव मे अब पूर्ण संविलियन हुआ है। नवीन शिक्षक संघ ने अधूरा संविलियन स्वीकार नही किया था। अब प्रदेश के शिक्षा कर्मीयो के कठिन जीवन का अंत हुआ और अब नई शुरुवात है। विकास ने बताया कि कांग्रेस के जन घोषणा पत्र में शिक्षको को लिया हुआ वायदा सरकार  जल्द  पूरा करे । हम उम्मीद करते है कि जल्दी ही वेतन विसंगति की समस्या का समाधान होगा । सहायक शिक्षको की वेतन विसंगति को दूर करने के लिए मुख्यमंत्री अपना वादा निभाएंगे। सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप न्यूज़ ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नवीन शिक्षक संघ की प्रदेश महिला प्रवक्ता गंगा पासी ने बताया कि मुख्यमंत्री ने दो वर्ष की सेवा अवधि के बाद बजट में संविलियन का निर्णय लेकर शिक्षको के संघर्ष के साथ न्याय किया है, हम सब मुख्यमंत्री  का  धन्यवाद ज्ञापित करते है। 

गंगा ने बताया कि वर्तमान बजट  घोषणा से प्रदेश के संविलियन से वंचित शिक्षाकर्मियों के साथ-साथ संविलियन प्राप्त कर चुके एलबी संवर्ग के शिक्षकों में भी हर्ष व्याप्त है हमारे साथी संविलियन की सौगात से वंचित है इस बजट से उन्हें भी यह सौगात प्राप्त हुई है हमें अपार खुशी हो रही है। प्रदेश में  22 साल से अधिक की सेवा पूर्ण कर चुके शिक्षको की संख्या अधिक है कई रिटायरमेंट के कगार पर है। पूर्व विभाग की सेवा अवधि की गणना कर एक ही पद में 10 वर्ष की तिथि से प्रथम 20 वर्ष में द्वितीय और 30 वर्ष में तृतीय क्रमोन्नत वेतनमान में उच्चतर वेतनमान देने की घोषणा एवं आदेश हो जिससे 1लाख से अधिक शिक्षको की वेतन विसंगति दूर हो सके ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *