शिक्षाकर्मियों की हालत दयनीय,बिना वेतन निकल गई राखी अब जन्माष्टमी की बारी

बिलासपुर।नवीन शिक्षाकर्मी संघ के प्रदेश मीडिया प्रभारी मनोज चन्द्रा ने बताया की नवीन शिक्षाकर्मी संघ महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष उमा जाटव व प्रदेश सचिव गिरीश साहू ने आठ वर्ष से कम प्रदेश मे कार्यरत पंचायत व नगरीय निकाय के हजारो शिक्षक संवर्ग को जून माह से वेतन नही मिलने पर आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा है कि एक तरफ आठ वर्ष पूर्ण कर शिक्षक एल.बी.संवर्ग को महीना समाप्त हुआ नही और वेतन का भुगतान हो गया वही पर पूरी निष्ठा व लग्न से कार्य करने वाले हजारो पंचायत/नगरीय निकाय शिक्षक संवर्व को दो से तीन माह का वेतन भुगतान करने के लिए आबंटन की समस्या पूर्व की भांति यथावत है।

उमा जाटव व गिरीश साहू ने कहा है की वेतन नही मिलने के कारण प्रदेश के शिक्षक पंचायत नगरीय निकाय संवर्ग बकरीद,राखी जैसे बड़े पर्व पर खाली हाथ मनाने मजबूर हुए वही अब हलषष्ठी व जन्माष्टमी जैसे पर्व भी खाली हाथ मनाने मजबूर हो गये है।

वेतन के अभाव मे शिक्षक पंचायत/नगरीय निकाय संवर्ग को अपने,मां-बाप,बीबी बच्चो की परिवरिश करने मे बहुत अधिक आर्थिक कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है साथ ही साथ अगर घर/परिवार मे कोई सदस्य बुखार या किसी भी प्रकार के शारीरिक परेशानी मे पड़ते है तो इलाज कराने अन्य लोगों से उधार मांगने पर मजबूर हो जाते है।

प्रदेश उपाध्यक्ष रूपेंद्र सिन्हा,ब्रिज नारायण मिश्रा व अमित नामदेव व प्रदेश महिला प्रवक्ता गंगा पासी ने यथाशीघ्र शिक्षक पंचायत नगरीय निकाय संवर्ग को वेतन भुगतान करने की मांग किया है।

नवीन शिक्षाकर्मी संघ प्रदेश अध्यक्ष विकास सिंह राजपूत ने बयान जारी कर कहा है की वेतन विसंगति व वेतन समस्या की मूल जड़ आठ वर्ष का बन्धन है शिक्षको के साथ हो रहे भेदभाव को सरकार को समाप्त करना चाहिए आठ वर्ष का बन्धन समाप्त कर समस्त शिक्षक पंचायत संवर्ग का संविलियन करने से वेतन विसंगति व वेतन भुगतान की समस्या स्वतः ही समाप्त हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *