मेरा बिलासपुर

शिक्षाकर्मियों के संविलियन के बाद भी दूर नहीं हुई विसंगतियां , समयमान/क्रमोन्नत अधिकार मंच ने शुरू किया अभियान

बिलासपुर।छत्तीसगढ़ शासन की आर्थिक नीति की उपेक्षा से आहत शिक्षको ने राज्य के अन्य कर्मचारियों के बराबर आर्थिक व अन्य लाभ को शिक्षको पर लागू करने व समानता लाने के लिए समयमान/क्रमोन्नत अधिकार मंच की रणनीति तैयार कर ली है। एक चर्चा में इस मंच के केंद्र बिंदु कमलेश्वर सिंह राजपूत ने बताया कि एक विभाग में कुछ तो दूसरे विभाग में कुछ नियम प्रचलित है।राज्य स्कूल शिक्षा विभाग में कार्यरत शिक्षको के साथ राज्य शासन यही  भेद भाव की नीति अपना रहा है।सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप NEWS ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक कीजिये

एक ही पद पर 10 वर्ष एवं 20 वर्ष की सेवा पूर्ण कर चुके है उन्हें समयमान/क्रमोन्नति के आधार पर क्रमशः प्रथम एवं द्वितीय उच्चतर वेतनमान  का वेतन बैंड एवं ग्रेड पे देने का आदेश शासन द्बारा नही किया जाना सबसे बड़ा उदाहरण है। इस मुद्दे को लेकर आम शिक्षक (एल बी) सवर्ग इससे क्षुब्द होकर अपने अपने मूल संघठनो से हटकर “समयमान/क्रमोन्नत वेतनमान अधिकार मंच का गठन कर अपने अधिकार के लिए संगठित हो रहे है और रणनीति बना रहे है।

जानकारी देते हुए मंच से जुड़े कमलेश्वर सिंह ने बताया कि  एक लंबी लड़ाई के बाद संविलियन हुआ । परन्तु संविलियन के बाद विसंगतियों दूर नही किया गया। प्रदेश के कई शिक्षक रिटायरमेंट की एकदम करीब है। इन्ही सब आर्थिक विषयों के सार को लेकर मंच का गठन किया गया है।

इस मंच की विशेष एवं एक सूत्रीय  मांग ऐसे शिक्षक (एल बी)सवर्ग जो पूर्व में शिक्षक (पं/ननि)के पद पर कार्य चुके और पूर्व सेवा की गणना कर एक ही पद में 10 वर्ष एवम 20 वर्ष की सेवा पूर्ण कर ली है उन्हें क्रमशः प्रथम एवम द्वितीय उच्चतर वेतनमान का वेतन बैंड एवम ग्रेड पे देने की मांग शासन से करेंगे ।राज्य भर के ऐसे शिक्षक(एल बी)जो केवल  समयमान/क्रमोन्नत वेतनमान के आधार पर वेतन पुनरीक्षण की मांग का समर्थन करते उन्हें अपील की जा रही है कि निशर्त अपने मूल संगठन से हटकर मंच में शामिल होवे ।इस मंच में अब तक 2000 से अधिक शिक्षक,(एल बी)सवर्ग की सहमति आ चुकी है  ।समयमान/क्रमोन्नत अधिकार मंच शिघ्र ही अपनी रणनीति की खुलासा करेंगा।

VIDEO-आगर नदी की बा़ढ़ में 18 लोग फंसे...राहत दल के प्रयास से सभी सुरक्षित...बाल-बाल बचे टीम सदस्य और अधिकारी

 कमलेश्वर सिंह ने बताया कि समयमान/क्रमोन्नत अधिकार मंच से वतर्मान में  कमलेश्वर सिंह राजपूत,अजय कुमार ठाकुर नवीन खरे धमतरी, कमलेश पटेल जांजगीर वंश बिहारी बनाफर ,मनोज कमरों शिव सारथी बिलासपुर, शशिभूषण शर्मा दुर्ग ,राजेश वर्मन मुंगेली ,जयप्रकाश साहू पुनाराम यादव,संजय वर्मा ,राजेन्द्र वर्मा सुनील गुनी कुणाल टंडन राजनादगांव ,ऋषि चंदेल ,विक्रम सिंह चन्देल ,शंकर गोयल पिथौरा संजय केवट जगदलपुर ,लैलूंन भारद्वाज,शांति थवाईत ,फुलजेन किस्पोट्टा जसपुर आलोक स्वर्णकार जशपुर,संजय सिंह अम्बिकापुर , अजय उपाध्यय सिमगा राजकुमार सुकमा ,दीपक राय कांकेर,चन्द्रभान दंतेवाड़ा मोहमद जाकिर कबीरधाम सन्तोष जयसवाल रायगढ़ ,डॉ शिवनारायन द्ववेदी ,आभा देश पांडेय ,बिलासपुर भारती पाटन डॉ शिवनारायन देवांगन अंजोरा ,उपेंद्र वर्मा , नीरज क्षत्रिय,खूबचन्द सिन्हा गरियबन्द , कृष्णा वर्मा,पाटन प्रदीप वर्मा भाटापारा ,अनिल गुप्ता,आजम खान,जावेद खान,कृष्ण कुमार नवरंग, छोटे लाल साहू ,मंजूषा तिवारी ,इदरीश खान,सुखनंदन यादव, रामशरण आदि जुड़ चुके है और अन्य संगठन के प्रमुख लोगो से मंच को निः शर्त समर्थन या जुड़ने हेतु व्यक्तिगत सम्पर्क किया जा रहा है । शिक्षक( एल बी)मिलकर इस अभियान को प्रारम्भ कर दिए है समयमान/क्रमोन्नत अधिकार मंच में लगभग प्रत्येक विकास खण्डों से औसत 10-20  सक्रिय सदस्य को जोड़कर आगामी रणनीति बनाई जाएगी ।

Arrears , education workers, screw , order , Chhattisgarh,शिक्षक एलबी संवर्ग , पूर्व विभाग ,सेवा अवधि , गणना, पदोन्नति,समयमान वेतनमान , पात्रता, विभाग ,सौंपा , आवेदनछत्तीसगढ़ व्यख्याता(पंचायत/एल बी)संघ के प्रान्ताध्यक्ष कमलेश्वर सिंह,छत्तीसगढ़,भूपेश बघेल ,सरकार,LB शिक्षकों के प्रमोशन,शिक्षाकर्मियों के संविलियन,

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS